Menu
blogid : 316 postid : 1393951

देश में कोरोना और कम्यूनिटी स्प्रेड पर क्या कहते हैं विशेषज्ञ, पढ़िए रिपोर्ट

Rizwan Noor Khan

19 Jul, 2020

 

 

भारत में लगातार कोरोना के नए मामलों में रिकॉर्डतोड़ इजाफा दर्ज किया जा रहा है। पिछले घंटे में मिले नए मरीजों की संख्या 38 हजार पार कर गई है। इतनी बड़ी संख्या में इससे पहले कभी पॉजिटिव केस ​नहीं मिले। ऐसे में कोरोना के कम्यूनिटी स्प्रेड यानी सामुदायिक प्रसार की आशंका बढ़ गई है। आईएमए ने कहा है कि देश में कोरोना का सामुदायिक प्रसार शुरू हो चुका है। आइये जानते हैं अन्य विशेषज्ञ इस मामले पर क्या कहते हैं।

 

 

 

 

 

आईएमए ने कहा- और भी खराब हो सकते हैं हालात
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन आईएमए ने कोरोनो को लेकर देश के मौजूदा हालात पर गहरी चिंता जताई है। आईएमए ने चेतावनी देते हुए कहा ​है कि देश में कोरोना का कम्यूनिटी स्प्रेड शुरू हो चुका है और हालात और भी खराब होने वाले हैं। बता दें कि ​देश में कोरोना पॉजिटिव मामले 11 लाख के करीब पहुंच चुके हैं और 26 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

 

 

 

 

 

डॉक्टर मोंगा बोले- शुरू हो चुका है कम्यूनिटी स्प्रेड
एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक आईएएमए के अध्यक्ष डॉक्टर वीके मोंगा ने कहा है कि कोरोना अब पहले से ज्यादा घातक रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। हर दिन 30 हजार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं यह सच में खराब स्थिति है। कोरोना अब ग्रामीण इलाकों की तरफ बढ़ रहा है जो खतरे का बड़ा संकेत है। इससे पता चलता है कि देश में कम्यूनिटी स्प्रेड शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों को अत्यधिक सावधानी बरतने की जरूरत है।

 

 

 

 

 

 

एम्स के निदेशक बाले- अन्य देशों से हम ठीक स्थिति में
भारतीय चिकित्सा आयुर्विज्ञान संस्थान AIIMS के निदेशक रणदीप गुलेरिया के मुताबिक अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति काफी ठीक है। एएनआई से उन्होंने कहा कि भारत में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं लेकिन अगर हम भारत की तुलना और देशों के साथ करें तो हमारे यहां केस प्रति मिलियन अभी भी कम हैं। भारत की आबादी बहुत ज़्यादा है, इसलिए मामले ज़्यादा लगते हैं। उन्होंने कहा​ कि भारत में 4 वैक्सीन काफी आगे के स्टेज पर आ गई हैं। गुलेरिया के बयान से जानकार लोग अंदाजा लगा रहे हैं कि देश में कोरोना मामले नियंत्रण में है और घबराने की जरूरत नहीं।

 

 

 

 

 

कम्यूनिटी स्प्रेड से बचने के दो रास्ते
हॉस्पिटल बोर्ड ऑफ इंडिया आईएमए के अध्यक्ष डॉक्टर मोंगा ने कोरोना वायरस को एक वायरल बीमारी बताते हुए कहा कि यह बहुत तेजी से फैलती है। इसके प्रसार को रोकने के लिए केवल दो रास्ते हैं। पहला यह कि 70 फीसदी आबादी इस बीमारी से संक्रमित हो जाए और खुद अपने अंदर वायरस से इससे लड़ने की इम्यूनिटी विकसित कर ले। उन्होंने दूसरा तरीका बताया कि या फिर इसकी वैक्सीन तैयार हो जाए।..NEXT

 

 

 

Read More :

 

देश के एक राज्य में कोरोना के लाखों संक्रमित और एक में एक भी मरीज नहीं, जानिए राज्यों की ताजा स्थिति

भारत में 5 कंपनियां बना रहीं कोरोना वैक्सीन, एम्स के निदेशक ने बताया वैक्सीन आने का समय

शरीर में चकत्ते और खुजली हो तो लापरवाही न बरतें, ये कोरोना संक्रमण का संकेत, रिसर्च में दावा

यहां अस्पतालों से दूर भाग रहे कोरोना पेशेंट, खाली पड़े हैं कोरोना हॉस्पिटल्स के हजारों बेड

कोरोना को लिटिल फ्लू बताने वाले बोलसोनारो संक्रमित, इस देश में बेकाबू होता जा रहा कोरोना

दुनियाभर में बन रहीं कोरोना की 149 वैक्सीन, आने में लगेगा इतना समय

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *