Menu
blogid : 316 postid : 1393504

ये हैं यूपी बोर्ड परीक्षा हाईस्कूल और इंटर के टॉपर, दोनों बागपत से, मेधावियों को मिलेंगे एक लाख नकद, लैपटॉप और सड़क

Rizwan Noor Khan

27 Jun, 2020

 

 

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने यूपी बोर्ड परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। लड़कियों ने एक बार फिर लड़कों को पछाड़ दिया है। यूपी बोर्ड परीक्षा में बागपत जिले ने अपना डंका बजाया है। हाईस्कूल और इंटर के दोनों टॉपर बागपत जिले से हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि मेधावियों को एक लाख रुपये, लैपटॉप और उनके घर तक जाने वाली पक्की सड़क इनाम के तौर पर भेंट की जाएगी।

 

 

यूपी बोर्ड इंटर टॉपर अनुराग और हाईस्कूल टॉपर रिया जैन।

 

 

बागपत जिले का बजा डंका
यूपी बोर्ड परीक्षाओं में पिछले कुछ सालों से बागपत का डंका बज रहा है। इस बार के यूपी बोर्ड रिजल्ट में भी हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के दोनों टॉपर इसी जिले से हैं। बागपत जिला दिल्ली एनसीआर क्षेत्र का हिस्सा है और पश्चिमी उत्तर प्रदेश का एक महत्वपूर्ण शहर भी है। यहां के बड़ौत में स्थित श्री एसएम इंटर कॉलेज टॉप विद्यालयों में गिना जाता है। इस बार के दोनों टॉपर इसी कॉलेज के विद्यार्थी हैं।

 

 

 

इंटर के टॉपर अनुराग ​मलिक
बागपत में पिछले कुछ सालों में शिक्षा को लेकर अच्छे रिजल्ट आते रहे हैं। इंटरमीडिएट में टॉप करने वाले अनुराग मलिक बागपत के बड़ौत स्थित श्री एसएम इंटर कॉलेज के छात्र हैं। अनुराग ने 97 फीसदी अंक हासिल कर यूपी बोर्ड परीक्षा में टॉप किया है। अनुराग के मुताबिक वह आइएएस बनना चाहते हैं। परीक्षा के लिए उन्होंने 16 घंटे तक पढ़ाई की। अनुराग 10वीं में 92 फीसद अंकों के साथ जिला टॉपर रहे थे। अनुराग की मां पारूल जैन और उनके पिता प्रमोद मलिक कारोबारी हैं। परीक्षा में दूसरे नंबर पर 96 प्रतिशत अंक पाने वाले प्रयागराज के प्रांजल हैं। जबकि, तीसरे नंबर पर औरैया के उत्कर्ष शुक्ला हैं और उन्हें 94.80 फीसद अंक मिले हैं।

 

 

 

 

 

हाईस्कूल की टॉपर रिया जैन
हाईस्कूल में टॉप करने वाली रिया जैन को 96.67 फीसदी अंक हासिल हुए हैं। रिया जैन बागपत के श्री एसएम इंटर कॉलेज की छात्रा हैं। रिया जैन ने कहा कि वह अंग्रेजी विषय की शिक्षक बनना चाहती हैं। वह हर दिन 15 घंटे पढ़ती हैं। उन्होंने अपने कारोबारी पिता भारत भूषण और माता कविता जैन समेत अपने स्‍कूल श्रीराम इंटर कालेज को सफलता का श्रेय दिया। रिया के मुताबिक मेहनत के बल पर लक्ष्य पाया जा सकता है। रिया कुल चार भाई-बहनों में दूसरे नंबर की हैं। दूसरे स्थान पर बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा हैं। उन्हें 95.83 फीसदी अंक हासिल हुए हैं। तीसरें नंबर पर रहे योगेश प्रताप सिंह भी बाराबंकी के रहने वाले हैं और उन्हें 95.33 फीसदी अंक हासिल हुए हैं।

 

 

 

लड़कियों ने लड़कों को फिर पछाड़ा
उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने एएनआई को बताया कि हाईस्कूल की परीक्षा में छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 83.31 है। बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों की अपेक्षा 7.41% अधिक है। इंटरमीडिएट की परीक्षा में उत्तीर्ण प्रतिशत 74.63 है। बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों की तुलना में 13.08% अधिक है। उन्होंने कहा कि 15 जुलाई से हाईस्कूल के और 30 जुलाई के आसपास इंटरमीडिएट की अंक तालिकाएं (सॉफ्ट कॉपी) उपलब्ध कराई जाएंगी। डिजिटल माध्यम से मिला अंक पत्र प्रवेश के लिए मान्य होगा।

 

 

 

 

मेधावियों पर मेहरबान हुई सरकार
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार मेरिट में आने वाले मेधावी बच्चों को उपहार स्वरूप एक लाख रुपये एक लैपटॉप भेंट किया जाएगा। उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने आगे कहा कि इसके अलावा सरकार मेधावी छात्रों के घर तक जाने वाली पक्की सड़क का निर्माण भी कराएगी।..NEXT

 

 

 

 

Read More:

ये हैं कोरोना प्रभावित टॉप 10 देश, जानिए भारत, पाकिस्तान और चीन किस पायदान पर

अफ्रीका महाद्वीप के 1.2 अरब लोगों पर कोरोना का खतरा, सभी 56 देशों में पहुंची महामारी!

कोरोना ने पाकिस्तान में कहर ढाया, जुलाई और अगस्त माह होने वाले हैं सबसे खतरनाक

भारत की मदद से 150 देशों के हालात सुधरे, कोरोना महामारी का बने हैं निशाना

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *