Menu
blogid : 316 postid : 1394235

83 महिलाओं का रेप और हत्या करने वाला सीरियल किलर खुद मांग रहा मौत की सजा, जानें पूरा मामला

Rizwan Noor Khan

5 Aug, 2020

 

 

image courtesy : Daily Mail

 

 

एक पुलिसकर्मी की हैवानियत ने उसे रूस का सबसे बड़ा सीरियल किलर बना दिया। उसने 81 से ज्यादा महिलाओं का रेप और हत्या करने की बात कुबूली है। उसने हाल ही में 2 और महिलाओं की हत्या की बात स्वीकार की है। 56 साल के इस पूर्व पुलिसकर्मी को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। लेकिन, वह चाहता है कि उसे मार दिया जाए।

 

 

 

81 महिलाओं की हत्या पहले स्वीकारी थी अब दो और कुबूल कीं
डेलीमेल की रिपोर्ट के मुताबिक रूस के पूर्व पुलिसकर्मी मिखाई पोपकोव ने हाल ही में दो महिलाओं की हत्या की बात स्वीकार की है। उसने कहा कि 1990 में दो औरतों को मौत की नींद सुलाया था। रिपोर्ट के मुताबिक मिखाई पोपकोव 81 महिलाओं की हत्या और रेप की बात वह पहले ही स्वीकार कर चुका है।

 

 

Image courtesy : Daily Mail

 

 

2010 में गिरफ्तार किया गया था सीरियल किलर
रिपोर्ट के मुताबिक 2010 में मिखाइल को हत्याओं के जुर्म में गिरफ्तार किया गया था। जब उसने अपने जुर्म कुबूल किए और हत्या करने का मकसद बताया तो सबके होश उड़ गए थे। इसके बाद उसे रूस का सबसे खतरनाक सीरियल किलर कहा जाने लगा था।

 

 

image courtesy : Daily Mail

 

 

 

लिफ्ट के बहाने अपनी कार में बैठा लेता था
मिखाइल पोपकोव खूबसूरत औरतों को लिफ्ट देने के बहाने अपनी कार में बैठा लेता था। पुलिस की गाड़ी और पुलिसकर्मी के कारण महिलाएं मना नहीं करती थीं। मिखाइल पहले तो मी​ठी मीठी बातें कर दोस्ताना व्यवहार करता था और जैसे ही महिलाएं थोड़ा उससे बात करने लगती थीं तो वह उन्हें बहाने से अपने खाली म​कान में ले जाता था।

 

image courtesy : Daily Mail

 

 

 

घर ले जाकर करता था रेप और हत्या
मिखाइल ने अपने केस की सुनवाई के वक्त स्वीकार किया था कि वह उन औरतों को अपने घर ले जाकर उनके साथ समय बिताता था और रात रंगीन करता था। इसके बाद वह उन्हें मार देता था। जो महिला तैयार नहीं होती थी उसके साथ जबरदस्ती करता था और बाद में मार देता था।

 

 

 

 

 

10 साल से जेल में बंद सीरियल किलर को अब अफसोस
हाल ही में मिखाइल पोपकोव ने पूछताछ में दो और महिलाओं की हत्या की बात स्वीकार की है। उसने कहा कि उसे अपने किए पर बहुत दुख है। वह चाहता है कि उसे मार दिया जाए। लेकिन, रूस में मौत की सजा का प्रावधान नहीं होने से उसे मरने तक जेल में रहना होगा।..NEXT

 

 

 

Read More :

कोरोना फ्री घोषित देशों में फिर से लौट रहा वायरस, अचानक बढ़ने लगे मरीज, WHO ने कहा- इसे हल्के में न लें

कोरोना पीड़ित टॉप 10 देशों की सूची में इस नए देश की एंट्री, एक सप्ताह में ग्लोबल हॉटस्पॉट सेंटर बना

कोरोना से मरने वालों में 50 फीसदी बुजुर्ग और 32 फीसदी महिलाएं

देश के एक राज्य में कोरोना के लाखों संक्रमित और एक में एक भी मरीज नहीं, जानिए राज्यों की ताजा स्थिति

शरीर में चकत्ते और खुजली हो तो लापरवाही न बरतें, ये कोरोना संक्रमण का संकेत, रिसर्च में दावा

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *