Menu
blogid : 316 postid : 310

चेहरे पर चेहरा..अश्लील वीडियो की हकीकत


लोग कहते हैं हर इंसान के कई चेहरे होते हैं. जो दिखता है, कई बार वह आंखों का धोखा होता है. यह सही है, आज यह कहना गलत होगा कि सिर्फ अपनी आंखो देखे पर ही यकीन करना चाहिए क्योंकि कलयुग में टेक्नोलॉजी के असर से आंखे भी धोखा खाने को जैसे तैयार रहती हैं.

imagesअभी हाल ही में अभिनेत्री कैटरीना कैफ का एक अश्लील वीडियो मार्केट में आया. वीडियो की जांच में यह बात सामने आई कि एक तरह की टेक्नोलॉजी का प्रयोग कर इस चर्चित अभिनेत्री के नाम के सहारे इस न्यूड वीडियो क्लिप को विदेशी बाजार में ऊंची कीमत पर बेचा जा रहा था.


विश्व में बढ़ता पोर्न साम्रगी का कारोबार आज इस कदर बढ़ चुका है कि अधिकतर लोग इंटरनेट पर जाते ही पोर्न सामग्री के लिए हैं तो कई लोग सिर्फ ब्लू फिल्म ही देखना पसंद करते हैं. और तो और पोर्न और अश्लीलता के दीवानों के लिए साहित्य के दरवाजे भी खुले हैं जहां उन्हें अश्लील उपन्यास से लेकर किताबें तक मिलती हैं. भोग और वासना का बढ़ता कारोबार ही है जो आए दिन होने वाले नकली सेक्स सीडी और एमएमएस के पीछे है.

cybercrimeआज वीडियो एडिटिंग के बहुत से सॉफ्टवेयर इंटरनेट पर फ्री में मौजूद हैं. इनकी थोड़ी सी जानकारी से ही आप किसी भी वीडियो को एडिट कर सकते हैं. इसी तरह के वीडियो एडीटर और नई टेक्नोलोजी का उपयोग कर प्रोफेशनल न्यूड फिल्मों पर चर्चित लोगों की तस्वीर लगा बाजार में ज्यादा मुनाफा बनाया जाता है. पूरा काम एक हाई प्रोफाइल रैकेट के साथ साथ छोटे-छोटे लोगों के माध्यम से भी होता है.

मशहूर लोगों को तो बदनाम करने के लिए यह सब किया ही जाता है लेकिन मध्यम वर्गीय और अन्य लोगों के मामले में इन एमएमएस का उपयोग ब्लैकमैलिंग और शोषण के लिए किया जाता है. अक्सर ऐसे मामलों में परिवार वाले इज्जत की खातिर धन दे देते हैं और कई दफा तो लडकियों का शारीरिक शोषण तक हो जाता है. ऐसे भी मामले देखने में आए हैं जहां लडकियों के फर्जी एमएमएस से भी धन-उगाही की जाती है. किसी और के वीडियो और फोटो में किसी और की तस्वीर लगा ऐसे बुरे कामों को अंजाम दिया जाता है.

10520516-edit-flip-video-on-macमसाज पार्लर और ब्युटी पार्लर में जाने वाली लडकियों के तो कितने ही वीडियो छुपे कैमरे से बना दिए जाते हैं जो मार्केट में बड़ी आसानी से पहुंच जाते हैं. एक नए शक्ल के जुड़ने से चन्द रुपयों में बिकने वाली वीडियो छोटे-छोटे एमएमएस क्लिप के सहारे भी कई डॉलरों की हो जाती है. अमूमन एक वीडियो सीडी यानी ब्लू फिल्म की सीडी 40-50 रुपए में मार्केट में मिल जाती है लेकिन जैसे ही किसी चर्चित अभिनेत्री या किसी मॉडल का चेहरा जुड़ता है वही वीडियो दो-तीन एमएमएस में बंटकर प्रत्येक क्लिप के 40 से 50 डॉलर के हिसाब से बिकता है. यानी एक चेहरा कई हजारों-करोडों का बिजनेस करवा देता है.

वैसे इस काम में जितना पैसा नजर आता है उतनी ही सजा भी मिलती है. साइबर लॉ के तहत किसी भी तरह की पोर्न सामग्री इंटरनेट पर अपलोड करना कानूनन जुर्म होता है. न्युडिटी किसी भी तौर पर भारत में जुर्म ही माना जाता है. लेकिन सिर्फ कानून के डर से इन पोर्न भोगियों को दूर नहीं किया जा सकता.

पैसे वाले और सेलीब्रेटी लोग तो ऐसे मामलों को अपने पैसों के बल पर दबा देते हैं लेकिन आम आदमी को ब्लैकमेलिंग की मार सहनी पड़ती है. ऐसे में जरुरी है कि आप पहले से ही सावधान रहें. लडकियां अपने बॉयफ्रेंड आदि से शारीरिक संबंध बनाने से पहले कई बार सोचें और किसी भी तरह के शोषण पर खुल कर बोलें. परिवार से कभी कोई ऐसी बात न छुपाएं जिससे आपका कोई शोषण हो रहा हो. परिवार और अभिभावकों को भी इस तरह की घटना होने पर डरना नहीं चाहिए और न ही कसूरवार की बातें माननी चाहिए. ऐसे मामलों में जितना संभव हो पुलिस और प्रशासन की सहायता लेनी चाहिए.

आज भोग और वासना में मनुष्य इतना आगे बढ़ गया है कि कुछ भी करने को तैयार है. पति अपनी पत्नी का अश्लील वीडियो बना डालता है तो मसाज और ब्युटी पार्लर में काम करने वाले अपने ग्राहकों की आपत्तिजनक तस्वीरें ले रहे हैं. इन सबको को हम बेशक न रोक सकें लेकिन अगर आप जागरुक रहेंगे और इसके खिलाफ समाज की परवाह किए बिना कोई कदम उठाएंगे तो आपको फायदा तो होगा ही आने वाला कल भी आजादी से जी सकेगा.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *