Menu
blogid : 316 postid : 1394093

ह्यूमन ट्रायल के फाइनल स्टेज पर पहुंची कोरोना की दो वैक्सीन, दुनियाभर में 23 वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल फेज में हैं

Rizwan Noor Khan

28 Jul, 2020

 

 

कोरोना वायरस से बचाव के लिए दुनियाभर के कई देश वैक्सीन बनाने में जुटे हैं। दो देशों अमेरिका और ब्रिटेन की वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल के फाइनल स्टेज में पहुंच चुकी हैं। जबकि, दुनिया में करीब 23 वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल के पहले या दूसरे फेज में हैं। अमेरिका की वैक्सीन का फाइनल मानव परीक्षण शुरू किया गया है।

 

 

Image Courtesy : AFP

 

 

अमेरिका की वैक्सीन का अंतिम ट्रायल शुरू
कोरोना वायरस से सबसे बुरी तरह प्रभावित अमेरिका 3 से ज्यादा कोरोना वैक्सीन पर काम कर रहा है। इसमें से 3 ह्यूमन ट्रायल के फेज हैं। जबकि, एक ट्रायल के अंतिम फेज में पहुंच चुकी है। अलजजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका की मॉडर्ना mRNA-1273 कोरोना वैक्सीन का अंतिम मानव परीक्षण शुरू हो चुका है। इस क्रम में 30 हजार लोगों को डोज दी जा रही है।

 

 

 

अगले साल की शुरुआत तक 100 करोड़ डोज बनेंगे
रिपोर्ट के मुताबिक यह वैक्सीन इस साल के अंत तक आ जाएगी। मॉडर्ना ने उम्मीद जताई कि 50 करोड़ डोज तैयार कर लिए जाएंगे। यह संख्या साल 2021 की शुरुआत तक 100 करोड़ भी हो सकती है। इस वैक्सीन को तेजी से विकसित करने के लिए अमेरिकी सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपये की मदद दी है।

 

 

Image Courtesy : Reuters

 

 

ब्रिटेन की वैक्सीन के अंतिम ट्रायल दो देशों में चल रहे
ब्रिटेन के आक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और आस्ट्राजेनेका की वैक्सीन भी ह्यूमन ट्रायल के फाइनल स्टेज पर पहुंच चुकी है। इसका अंतिम परीक्षण दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में किया जा रहा है। बता दें कि टॉप 5 कोरोना पीड़ित देशों में ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका के नाम दर्ज हैं। इस वैक्सीन के परीक्षण को लेकर भारत ने भी करार हुआ है।

 

 

 

Image Courtesy : Reuters

 

 

150 वैक्सीन में 23 ह्यूमन ट्रायल फेज में, सबसे ज्यादा चीन की
विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनियाभर में कोरोना की 150 से ज्यादा वैक्सीन विकसित की जा रही हैं। इनमें से 23 वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल फेज में पहुंच चुकी हैं। इस लिस्ट में चीन की सबसे ज्यादा 5 वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल फेज में हैं। जबकि, अमेरिका की तीन, ब्रिटेन की दो, रूस, आस्ट्रेलिया और जर्मनी की एक एक वैक्सीन मानव परीक्षण स्तर से गुजर रही है।

 

 

Image Courtesy : Xinhua

 

 

भारत में दो कंपनियां कर रहीं ह्यूमन ट्रायल
भारत की स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन ह्यूमन ट्रायल के पहले स्टेज पर है। अब तक इस परीक्षण के सभी परिणाम सकारात्मक आए हैं। वैक्सीन के ट्रायल देश के 12 सेंटर्स पर किए जा रहे हैं। रोहतक पीजीआई और पटना एम्स में अब तक तकरीबन 30 लोगों को वैक्सीन का डोज दिया जा चुका है। शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में भारत बायोटेक और जैडस कैडिला 6 सेंटर्स पर ह्यूमन ट्रायल्स शुरू कर चुकी हैं।..NEXT

 

 

 

Read More :

फांसी पर लटकने से पहले ही मर गए 8 हत्यारे, मौत की वजह बनी ये बीमारी

कहीं फेस मास्‍क ही न दे दे कोरोना वायरस, खरीदने और उसके इस्‍तेमाल से पहले जान लें ये बातें

देश के एक राज्य में कोरोना के लाखों संक्रमित और एक में एक भी मरीज नहीं, जानिए राज्यों की ताजा स्थिति

भारत में 5 कंपनियां बना रहीं कोरोना वैक्सीन, एम्स के निदेशक ने बताया वैक्सीन आने का समय

शरीर में चकत्ते और खुजली हो तो लापरवाही न बरतें, ये कोरोना संक्रमण का संकेत, रिसर्च में दावा

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *