Menu
blogid : 316 postid : 1394801

इन शर्तों को पूरा करने पर ही कर पाएंगे मेट्रो यात्रा, जानें कहां-कहां शुरू हुई मेट्रोलाइन और नई गाइडलाइन

Rizwan Noor Khan

7 Sep, 2020

देश में लंबे समय बाद मेट्रो सेवा आखिरकार 7 सितंबर से शुरू हो गई है। कोरोना के कारण देशभर में मार्च से अब तक मेट्रो सेवा बंद थी। मेट्रो में सफर करने के लिए यात्रियों को दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। कुछ शर्तें भी रखी गई हैं और अगर कोई यात्री उन शर्तों को पूरी नहीं करता है तो वह यात्रा नहीं कर पाएगा। आइए जानते हैं कोरोना महामारी के दौरान मेट्रो यात्रा के लिए नियम, कानून, सावधानी और तमाम अहम बातों के बारे में।

इन शहरों में पहले फेज की मेट्रो यात्रा शुरू
तकरीबन 6 महीने बाद देशभर में मेट्रो सेवा शुरू हो गई है। देश की राजधानी दिल्ली, गुरुग्राम, नोएडा, लखनऊ, जयपुर, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि और बेंगलुरू में मेट्रो सेवा शुरू की गई है। पहले फेज में सभी शहरों की मुख्य और महत्वपूर्ण मेट्रालाइनों पर ही सेवा उपलब्ध होगी। धीरे धीरे अलग अलग रूट की लाइन पर मेट्रो शुरू की जाएगी। पश्चिमबंगाल की राजधानी कोलकाता में मेट्रो सेवा 8 सितंबर से शुरू होगी। ​

चरणबद्ध तरीके से खोले जाएंगे मेट्रो के सभी रूट
कोरोना महामारी के चलते 25 मार्च से मेट्रो सर्विस बंद कर दी गई थी। पिछले एक सप्ताह से मेट्रो शुरू करने की तैयारियां चल रही थीं। 169 दिनों के बाद आखिरकार दिल्ली में मेट्रो सर्विस फिर से शुरू हुई है। दिल्ली मेट्रो कॉरपोरेशन के अनुसार पहले फेज में सिर्फ येलो लाइन पर ही मेट्रो चलेगी। इसके बाद धीरे धीरे चरणबद्ध तरीके से बाकी रूट भी शुरू किए जाएंगे। इसके लिए 2 सितंबर को डीएमआरसी ने गाइडलाइन जारी कर दी थी। करीब 45 स्टेशनों पर आटो थर्मल स्क्रीनिंग और सैनेटाइजिंग मशीनों का इंतजाम किया गया है।

यात्रा की शर्तें, नियम और सावधानी
डीएमआरसी ने यात्रियों को फेसमास्क पहनना अनिवार्य किया है। स्मार्टफोन में आरोग्य सेतु ऐप का होना भी अनिवार्य है। केवल स्मार्टकार्ड के जरिए यात्रा की जा सकेगी। फेसमास्क स्टेशनों से भी खरीदे जा सकेंगे। सर्दी, जुकाम, खांसी या बुखार के लक्षण होने पर यात्रा नहीं कर पाएंगे। हर हाल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। इसके अलावा मेट्रो ने यात्रियों से सफर के दौरान ज्यादा बात नहीं करने की भी अपील की है। ज्यादा सामान लेकर यात्रा न करें। हैंडसैनेटाइजर की पॉकेट साइज बॉटल की अनुमति। एस्केलेटर और लिफ्ट से सीमित उपयोग होगा, सीढ़ियां पूरी तरह खुली रहेंगी।…NEXT

 

Read More:

फेक कोरोना रिपोर्ट जारी कर ऐंठते थे मोटी रकम, डॉक्टर समेत 3 गिरफ्तार

इस गांव में 16 अगस्त तक एक भी मरीज नहीं था पर अब हर चौथा शख्स पॉजिटिव

40 फीसदी लोगों को इस साल कोरोना वैक्सीन आने की उम्मीद

कोरोना के इलाज में फेल हुई दवा, ट्रायल्स में नहीं मिली सफलता

म्यूजियम से 132 करोड़ की पेंटिंग चोरी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *