Menu
blogid : 316 postid : 1397521

देश का पहला कोरोना मरीज फिर से संक्रमित हुआ, आरटीपीसीआर टेस्ट में खुलासा

देश में कोरोना का पहला पॉजिटिव केस पिछले साल 30 जनवरी 2020 को मिला था। वह पेशेंट करीब 17 महीने बाद फिर कोरोना वायरस की चपेट में है। दरअसल, पिछले साल चीन से लौटी मेडिकल छात्रा कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी, जो देश में पहला पॉजिटिव केस भी था। छात्रा के फिर से संक्रमित होने के बाद स्वास्थ्य विशेषज्ञ सतर्क हो गए हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 13 Jul, 2021

17 महीने बाद दोबारा संक्रमित
कोरोना महामारी ने दुनियाभर को मुसीबत में डाल रखा है। देश में भी पिछले कई सप्ताह से हर दिन 30 हजार से अधिक नए पॉजिटव केस सामने आ रहे हैं। एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल देश का पहला कोरोना संक्रमित पेशेंट चीन से लौटी मेडिकल छात्रा थी। अब करीब 17 महीने (530 दिन) बाद 13 जुलाई को आई रिपोर्ट में छात्रा फिर से कोरोना की चपेट में पाई गई है।

 

Symbolic image.


केरल की छात्रा दूसरी बार चपेट में

रिपोर्ट के अनुसार केरल के थ्रिसूर जिले की रहने वाली 20 वर्षीय मेडिकल छात्रा का आरटीपीसीआर टेस्ट पॉजिटव पाया गया है। थ्रिसूर के जिला चिकित्सा अधिकारी केजे रीना ने एएनआई को बताया कि छात्रा को किसी भी प्रकार के लक्षण तो सामने नहीं आए हैं। लेकिन, आरटीपीसीआर टेस्ट में रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। छात्रा को होम आईसोलेशन में रखा गया है।

वुहान यूनिवर्सिटी में मेडिकल स्टूडेंट
मेडिकल छात्रा चीन के वुहान यूनिवर्सिटी से मेडिकल की पढ़ाई कर रही है। वह पिछले साल जब भारत लौटी तो कोरोना के लक्षण पाए गए थे। 30 जनवरी 2020 को आई जांच रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। यह भारत का पहला कोरोना केस भी था। चिकित्सा अधिकारी के अनुसार इस बार छात्रा में लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं।

सर्वाधिक कोरोना के नए मामले केरल में
वर्तमान में देश के सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में केरल पहले स्थान पर है। 13 जुलाई की सुबह आए स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में केरल में सर्वाधिक 7798 नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए। बीते दिन 12 जुलाई को 12220 नए संक्रमित पाए गए थे। बता दें कि देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 3.09 करोड़ हो गई है। इनमें से 3 करोड़ रिकवर हो चुके हैं और 4.10 लाख की मौत हो चुकी है।

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *