Menu
blogid : 316 postid : 1389289

बिल नहीं तो ट्रेन में खाएं मुफ्त खाना, भारतीय रेलवे ने शुरू की नई पॉलिसी

ट्रेन में मिलने वाली खाने-पीने की चीजों पर बेहिसाब दाम वसूलने वालों पर रेलवे लगाम कसने जा रहा है। इसके लिए रेलवे ने नई स्कीम ‘नो बिल, फ्री फूड पॉलिसी’ लॉन्च की है। यानी खाने का बिल नहीं तो पैसा नहीं। यह नई पॉलिसी इंडियन रेलवे द्वारा इस वजह से लाई गई है क्योंकि रेलवे में कई बार खाना खरीदने पर बिल नहीं दिया जाता है। रेल यात्रियों की यह भी शिकायत है कि उनसे खाने की तय दाम से अधिक कीमत वसूली जाती है। रेलवे के इस फैसले से उम्मीद है अब यात्रियों से ट्रेनों में खाने की अधिक कीमत वसूली नहीं जाएगी।

 

 

31 मार्च से शुरु होगी बिल की प्रकिया

इस नई पॉलिसी का नोटिस को उन सभी ट्रेनों में 31 मार्च से लगाया जाएगा जिन ट्रेनों में यात्री यात्रा के दौरान खाना खरीदते हैं। यह नई योजना ठीक से काम कर रही है या नहीं इसके लिए रेलवे इंसपेक्टरों को बहाल करेगी जो इस बात की निगरानी करेंगे कि यात्रियों से तय दाम के मुताबिक पैसे लिए जा रहे हैं या नहीं और इसका सही-सही बिल दिया जा रहा है या नहीं दिया जा रहा है।

 

 

रेलवे को मिली थी 7000 से अधिक शिकायतें

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे के अफसरों ने इस पॉलिसी को लाने की मुख्य वजह बताते हुए कहा है कि खाना देने वाले वेंडर यात्रियों को मांगने के बावजूद खाने की बिल नहीं देते हैं। पिछले साल अप्रैल से अक्टूबर के बीच रेलवे को खाने की अधिक कीमत वसूले जाने संबंधी 7000 से अधिक शिकायतें मिली थीं।

 

 

बिल देना होगी अब जरूरी

सरकार का इसके पीछे तर्क है कि ऐसा करने से रेलवे कंपनियों की मनमानी रोक सकेगी। इस संबंध में रेलवे मंत्रालय ने सभी ट्रेनों पर नोटिस लगाने के निर्देश दिए गए हैं। नए नियमों के अनुसार, यदि किसी तरह से वेंडर्स बिल देने से मना करता है तो कैटरिंग कंपनी का लाइसेंस रद्द किया जा सकता है।

 

 

अधिक कीमत वसूलने पर होगा कॉन्ट्रेक्ट रद्द

यह कदम रेलमंत्री पीयूष गोयल के उस निर्देश के बाद उठाया गया है जिसमें उन्होंने रेलवे से ऐसे वेंडरों और खाना देने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। पिछले साल रेलवे ने दो कैटररों के कॉन्ट्रेक्ट को अधिक कीमत वसूलने की शिकायत की वजह से रद्द कर दिया था। साथ ही कई कैटरर्स पर भारी जुर्माना भी लगाया गया।

 

 

आईआरसीटीसी पर भी आएगी जानकारी

बताया जा रहा है कि 31 मार्च, 2018 से जिन ट्रेनों में यात्रियों को भोजन मुहैया कराया जाता है वहां बिल को अनिवार्य कर दिया गया है। इस बारे में आईआरसीटीसी ने टिकट बुंकिग वेबसाइट पर जानकारी साझा करना शुरू कर दी है।…Next

 

 

Read More:

ओला-उबर ड्राइवरों की हड़ताल की ये है असली वजह, जानें आप पर क्या पड़ेगा असर

भारत-पाकिस्‍तान समेत वो 6 देश, जिनके झंडे देते हैं ये संदेश

आपके पास इनकम टैक्‍स का नोटिस आएगा या नहीं, घर बैठे इस तरह करें पता

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *