Menu
blogid : 316 postid : 1395448

कोरोना एक्टिव केस में सबसे कम गिरावट, रोजाना अधिक मरीजों की रिकवरी का सिलसिला थमा

कोरोना संक्रमितों की जान बचाने की दिशा में लगातार सफलता हासिल हो रही है। लेकिन, पिछले 24 घंटे के आंकड़े कुछ ठीक नहीं हैं। कोरोना संक्रमितों की संख्या 90 लाख के पार पहुंच चुकी है। पिछले 24 घंटे में पहली बार एक्टिव केस में सबसे कम गिरावट देखी गई है और रोजाना नए मरीजों से अधिक रिवकरी का 47 दिन से चल रहा सिलसिला भी थम गया है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 20 Nov, 2020
Image courtesy : REUTERS

48 घंटे में 90 हजार नए केस
स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट केा मुतबिक भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 45,882 नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं। बीते दिन भी 45 हजार पॉजिटिव केस पाए गए थे। जबकि, उससे पहले दो दिनों में मरीजों की संख्या सबसे निचले स्तर पर पहुंची थी और क्रमशा 29,30 हजार नए मरीज मिले थे।

दो दिनों में मौतों की संख्या में अंतर नहीं
बीते दिन की तुलना में कोरोना के नए मामलों में ज्यादा अंतर नहीं है। ऐसा ही मौतों की संख्या में परिवर्तन नहीं है। पिछले 24 घंटे में 584 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। जबकि, बीते दिन 585 मरीजों की जान गई थी। पिछले कई दिनों से देश का कोरोना डेथ रेट घटने की बजाए 1.47 फीसदी पर रुका हुआ है।

अधिक रिकवरी का सिलसिला थमा
47 दिनों से नए मरीजों की तुलना में हर दिन अधिक मरीजों को ठीक करने का सिलसिला 48वें दिन थम गया। पिछले 24 घंटे में 44,807 मरीजों को रिकवर किया गया है, जबकि नए मरीज 45 हजार से ज्यादा मिले हैं। इस तरह डेढ़ माह से जारी अधिक रिकवरी की रफ्तार कम हो गई है।

Image courtesy : MIB

एक्टिव केस में सबसे कम गिरावट
ताजा पॉजिटिव केस को मिलाकर देश में कुल मामलों की संख्या 90,04,366 हो गई है। इसमें से 84,28,410 मरीजों को ठीक किया जा चुका है। वहीं, 1,32,162 मरीजों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में सबसे कम 491 एक्टिव केस घटकर 4,43,794 एक्टिव केस बचे हैं। एक महीने में यह पहली बार एक्टिव केस में गिरावट 3 हजार से कम हुई है।…NEXT

 

Read More: भारत बायोटेक और मॉडर्ना की वैकसीन सफलता की ओर

फरवरी में कोरोना वैक्सीन लांच करने की तैयारी में आईसीएमआर

भारत की मदद से 150 देश कोरोना संक्रमण थामने में कामयाब

आंटी कहे जाने पर भड़की महिला ने मचाया बवाल

बाबा का ढाबा के आरोपों पर क्या बोले गौरव वासन

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *