Menu
blogid : 316 postid : 1398108

267 दिनों में सबसे कम कोरोना एक्ट‍िव केस बचे, र‍िकवरी रेट मार्च 2020 के बाद सबसे ज्यादा

कोरोना संक्रम‍ितों की दैन‍िक संख्‍या में हर द‍िन उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। बीते तीन द‍िनों में नए केस की संख्‍या 10 से 13 हजार के बीच रही है। देश में एक्‍ट‍िव 267 द‍िन बाद सबसे कम बचे हैं और इस मामले में भारत कई देशों से अच्‍छी स्‍थ‍ित‍ि में है। दैन‍िक मौतों की संख्‍या में अचानक भारी उछाल पाया गया है। वहीं, वैक्‍सीनेशन संख्‍या र‍िकॉर्ड 111 करोड़ के नजदीक पहुंच गई है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 12 Nov, 2021

 

 

24 घंटे में एक हजार नए केस में ग‍िरावट-
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार देश में प‍िछले 24 घंटे में 12,516 नए पॉज‍िट‍िव केस पाए गए हैं। बीते द‍िन की तुलना में 1 हजार केस कम हुए हैं, क्‍योंक‍ि 11 नवंबर को 13,091 नए केस पाए गए थे। उससे पहले 10 नवंबर को 11,466 नए संक्रम‍ित दर्ज क‍िए गए थे। उधर, केरल में अकेले 7,224 पॉज‍िट‍िव केस म‍िले हैं, जो बाकी राज्‍यों की तुलना में सर्वाध‍िक है।

500 के पार हुईं दैन‍िक मौतों की संख्‍या- 
दैन‍िक मौतों की संख्‍या अचानक 300 से बढ़कर 500 के पार पहुंच गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार प‍िछले 24 घंटे में देश में 501 मौतें दर्ज की गई हैं। जो बीते द‍िन की तुलना में करीब 160 अध‍िक हैं, क्‍योंक‍ि 11 नवंबर को 340 मौतें दर्ज की गई थीं। वहीं, बीते 24 घंटे में केरल में 47 मौतें दर्ज की गई हैं।

24 घंटे में 13 हजार मरीज र‍िकवर-
देश में नए पॉज‍िट‍िव केस की तुलना में र‍िकवर होने वाले मरीजों की संख्‍या अध‍िक रही है। प‍िछले 24 घंटे में देश में 13,155 मरीजों को र‍िकवर करने में कामयाबी म‍िली है, जबक‍ि नए केस 12 हजार दर्ज क‍िए गए हैं। बीते द‍िन 11 नवंबर को 13 हजार नए केस की तुलना में 13878 मरीज ठीक हुए थे। इसी तरह 10 नवंबर को देश में 11,466 नए केस की तुलना में 11,961 मरीज ठीक हुए थे। देश का कोरोना र‍िकवरी रेट 98.26 फीसदी हो गया है, जो मार्च 2020 के बाद सबसे ज्‍यादा है।

 

 

267 दिन बाद सबसे कम एक्‍ट‍िव केस-
देश में लगातार घट रहे एक्‍टिव केस की संख्‍या 1.37 लाख बची है, 267 दिनों में सबसे कम हैं। बीते द‍िन 11 नवंबर को एक्‍ट‍िव केस की संख्‍या 1.38 लाख थी। देश में वैक्‍सीनेशन संख्‍या बढ़कर 110.79 करोड़ पहुंच गई है। उधर, देश में अबतक कुल पॉज‍िट‍िव मामलों की संख्‍या 3.44 करोड़ पहुंच गई है। इनमें से 3.38 करोड़ ठीक भी हो चुके हैं, जबक‍ि 4.62 लाख की मौत हो चुकी है।

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *