Menu
blogid : 316 postid : 1395815

6 महीने बाद कोरोना केस में सबसे बड़ी गिरावट, एक्टिव केस पहली बार सबसे निचले स्तर पर पहुंचे

Rizwan Noor Khan

22 Dec, 2020

कोरोना महामारी को थामने के प्रयासों को मिल रही सफलता के चलते संक्रमण के नए मामलों में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। 6 महीने बाद पहली बार सबसे कम संख्या में कोरोना के नए मरीज मिले हैं। वहीं, एक्टिव केस घटकर सबसे निचले स्तर पर आ गए हैं। वहीं, 30 से अधिक कोरोना संक्रमितों को ठीक कर डिस्चार्ज किया जा चुका है।

Image courtesy : IANS

सबसे कम नए संक्रमित केस मिले
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार कोरोना संक्रमण थामने में बड़ी कामयाबी मिली है। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 19,556 नए मरीजों पाए गए हैं। नए मरीजों की यह अब तक की सबसे कम संख्या है। जुलाई पहले सप्ताह के बाद यानी करीब 6 महीने बाद इतने कम नए संक्रमित केस मिले हैं।

कई दिनों से कोरोना डेथ रेट ठिठका
कोरोना के दैनिक नए मरीजों की बड़े स्तर पर संख्या घटी है, लेकिन उस तरह कोरोना मौतों में कमी नहीं आई है। यही वजह है कि पिछले कई दिनों से कोरोना डेथ रेट 1.45 फीसदी पर ठिठक गया है। पिछले 24 घंटे में 301 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। बीते दिन 333 मरीजों की मौत हुई थी। आने वाले दिनों में मौतों की संख्या घटने की प्रबल संभावना है।

Image courtesy : REUTERS

10 हजार अधिक मरीज रिकवर
दैनिक मरीजों की तुलना में अधिक मरीजों को ठीक करने का सिलसिला 25वें दिन भी जारी रहा। पिछले 24 घंटे में 30,376 कोरोना मरीजों को रिकवर किया गया है। इसका मतलब नए मरीजों की तुलना में करीब 10 हजार अधिक मरीज रिकवर हुए हैं। बीते दिन भी 25 हजार से अधिक मरीज ठीक हुए थे।

सबसे कम हुए एक्टिव केस
पहली बार एक्टिव केस की संख्या 3 लाख से नीचे आई है। अब देश में 2.90 फीसदी यानी 2,92,518 एक्टिव केस बचे हैं। वहीं, ताजा केस को मिलाकर देश में अब कोरोना के कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,00,75,116 हो गई है। इनमें से 96,36,487 कोरोना संक्रमितों को अब तक रिकवर किया जा चुका है। वहीं, 1,46,111 लोगों की मौत हो चुकी है।…NEXT

 

Read More: इन 7 देशों में मुफ्त लगेगी कोरोना वैक्सीन

1 करोड़ के नजदीक पहुंचे कुल संक्रमित मामले

जॉर्डन समेत 9 देशों में कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिली

भारत में 3 वैक्सीन को मंजूरी का इंतजार

7 कोरोना वैक्सीन को मिल चुकी है इमर्जेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *