Menu
blogid : 316 postid : 1394675

होम आइसोलेशन पर नई गाइडलाइन जारी, 4 बिंदुओं पर विशेष फोकस, जरूर जान लें

Rizwan Noor Khan

27 Aug, 2020

कोरोना के संक्रमण को थामने के तमाम प्रयासों के बीच रिकॉर्ड स्तर पर नए मरीजों की पुष्टि से विशेषज्ञों की चिंता बढ़ती जा रही है। पिछले 24 घंटे में मिले 75 हजार से अधिक नए मामलों के बाद से ऐहतियातन सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य नियमों के प्रति लोगों की जागरूकता बढ़ाई जा रही है। इस दिशा में स्वास्थ्य मंत्रालय ने होम आइसोलेशन से जुड़े महत्वपूर्ण 4 बिंदुओं पर फोकस करते हुए गाइडलाइन जारी की है।

Image courtesy : Al Jazeera

वैश्विक स्तर पर सर्वाधिक कोरोना केस में भारत तीसरा देश
देश में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 33,10,234 के पार पहुंच गई है। इनमें से 25,23,771 को पूरी तरह ठीक करने के बाद भी 725,991 एक्टिव केस हैं, जिन्हें रिकवर करने के लिए चिकित्सक दिनरात जुटे हुए हैं। वैश्विक स्तर पर सर्वाधिक कोरोना मामलों में भारत अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है।

Image courtesy : Al Jazeera

कब खत्म करें आइसोलेशन
1. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार जो लोग होम आइसोलेशन में हैं उनके लिए पहले दिशानिर्देश में कहा है कि कोरोना के लक्षण सामने आने के 10 दिन बाद होम आइसोलेशन को खत्म किया जा सकता है।

2. दूसरे दिशानिर्देश में कहा है कि आइसोलेशन के दौरान अगर लगातार 3 दिन से फीवर नहीं आया है तब भी आइसोलेशन खत्म किया जा सकता है।

Graph courtesy : MIB


आइसोलेशन खत्म होने के बाद क्या करें

3. जो लोग आइसोलेशन की अवधि और शर्तों पर खरे उतरते हैं उनके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिशानिर्देश दिया है कि वह अगले 7 दिनों तक खुद के स्वास्थ्य की निगरानी करें।

4. अगले दिशानिर्देश में कहा है कि आइसोलेशन पीडियड खत्म होने के बाद कोरोना टेस्टिंग कराने की जरूरत नहीं है। इसलिए परेशान नहीं हों।

 

Read More: जुकाम-खांसी का रामबाण इलाज है शहद, रिसर्च में खुलासा दवा से ज्यादा है असरदार

आक्सीजन सपोर्ट पर हैं 2.62 फीसदी कोरोना मरीज, जानिए कितने पेशेंट आईसीयू में और कितने वेंटीलेटर पर

8 दिन में रिकॉर्ड 3 फीसदी बढ़ा कोरोना रिकवरी रेट, मृत्युदर घटकर नीचे आई

कोरोना फ्री घोषित देशों में फिर से लौट रहा वायरस, अचानक बढ़ने लगे मरीज

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *