Menu
blogid : 316 postid : 1389243

भारत-पाकिस्‍तान समेत वो 6 देश, जिनके झंडे देते हैं ये संदेश

हर देश में राष्‍ट्रीय ध्‍वज को लेकर वहां के निवासियों में सम्‍मान होता है। दूसरे देशों में झंडे से ही किसी अन्‍य देश की पहचान की जाती है। खेल हो या राजनीति या फिर कोई और कार्यक्रम, जिस देश की उसमें भागीदारी होती है, वहां उसका राष्‍ट्रीय ध्‍वज लगा रहता है। हर देश के राष्‍ट्रीय ध्‍वज की बनावट और उसमें इस्‍तेमाल रंग कुछ न कुछ संदेश देते हैं। आइये आपको भारत समेत 6 बड़े देशों के राष्‍ट्रीय ध्‍वज के बारे में बताते हैं कि वे क्‍या संदेश देते हैं।

 

 

अमेरिका

 

 

अमेरिका के झंडे में मौजूद लाल रंग जोश व ताकत का और नीला सच्‍चाई व विशालता का प्रतीक है। झंडे पर मौजूद 50 तारे अमेरिका के मौजूदा 50 प्रांतों को रिप्रजेंट करते हैं। इस झंडे पर सफेद और लाल रंग की 13 पट्टियां उन ओरिजिनल 13 कॉलोनियों को दर्शाती हैं, जो ब्रिटिश राज से अलग हुईं और उन्हीं से अमेरिका का गठन हुआ।

 

फ्रांस

 

 

फ्रांस के झंडे को फ्रेंच ट्राइकलर भी कहा जाता है। इसमें नीले, सफेद और लाल रंग की तीन बराबर पट्टियां हैं। नीला रंग सच्‍चाई व इंसाफ, सफेद रंग शांति व ईमानदारी और लाल रंग शक्ति और बहादुरी का प्रतीक है।

 

चीन

 

 

चीन के झंडे में लाल रंग कम्युनिज्म का प्रतीक है। कहा जाता है कि कम्युनिज्म ऐसी व्यवस्था है, जहां गरीब और अमीर में कोई भेद नहीं होता और सभी के लिए समान मौके होते हैं। इस पर पीले रंग के 4 छोटे और 1 बड़ा सितारा बना है, जो समाज के अलग-अलग वर्ग के प्रतीक हैं। पहले सितारों की जगह चीन के झंडे पर एक हंसिया और हथौड़ा होता था, जिसे बाद में बदल दिया गया।

 

ब्रिटेन

 

 

ब्रिटेन के झंडे को यूनियन जैक भी कहा जाता है। इस झंडे में मौजूद सफेद रंग शांति और ईमानदारी, लाल रंग बहादुरी और ताकत, नीला रंग इंसाफ, धैर्य और जागरूकता का प्रतीक है। इसमें अलग-अलग क्रॉस को इस तरह लिया गया है कि इंग्लैंड के प्राचीन संत जॉर्ज, आयरलैंड के संत पैट्रिक और स्कॉटलैंड के संत एंड्रयू का प्रतिनिधित्व हो सके।

 

पाकिस्तान

 

 

पाकिस्तान के झंडे में मौजूद हरा रंग और चांद-तारे इस्लाम के पारंपरिक चिन्ह हैं। हरा रंग उम्मीद, खुशी और प्रेम का प्रतीक है, तो सफेद शांति और ईमानदारी का। चांद तरक्की और तारे रोशनी व ज्ञान के प्रतीक हैं।

 

भारत

 

 

तिरंगे को लेकर हर भारतीय गर्व महसूस करता है। इसमें केसरिया रंग देशभक्‍तों के बलिदान के लिए, सफेद रंग पवित्रता के लिए और हरा रंग उम्मीद के लिए है। अशोक चक्र की 24 तीलियां 24 घंटे विकास और रफ्तार का प्रतीक हैं। तीलियों का नीला रंग खुले आसमान की विशालता और पानी की गहराई का सिंबल है…Next

 

Read More:

आपके पास इनकम टैक्‍स का नोटिस आएगा या नहीं, घर बैठे इस तरह करें पता

राहुल द्रविड़ की वो शानदार पारी, जिसने रोक दिया था ऑस्ट्रेलिया का ‘विजय रथ’

गोरखपुर उपचुनाव में कांग्रेस ने बनाया अनचाहा रिकॉर्ड, दांव पर सियासी साख!

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *