Menu
blogid : 316 postid : 1395191

लग्जरी गाड़ियों के दौर में साइकिल का जलवा, कोरोनाकाल में इतनी बिकी कि कम पड़ गईं

Rizwan Noor Khan

22 Oct, 2020

कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया के अधिकांश व्यापार बुरी तरह प्रभावित हुए और कुछ तो पूरी तरह ठप्प तक हो गए। 7 महीनों तक लॉकडाउन के चलते औद्योगिक जगत की कमर टूट गई। कंपनियों, व्यापारियों को बढ़ा नुकसान उठाना पड़ा। लेकिन, इस बीच भारत में साइकिल बिक्री ने नया रिकॉर्ड कायम किया है। साइकिल ​इतनी बिकी हैं कि कम पड़ गईं।

Image courtesy : REUTERS

साइकिल ने लग्जरी गाड़ियों को पीछे छोड़ा
तकनीक के इस दौर में जब ऑटोमेटिक लग्जरी गाड़ियों की डिमांड अधिक है उस दौर में साइकिल ने इनको पीछे छोड़ दिया। कोरोनाकाल में आटोजगत का प्रोडक्शन और सप्लाई बुरी तरह प्रभावित हुआ। तकरीबन 7 महीने तक देश में जारी लॉकडाउन के चलते लोगों को घरों में ही रहना पड़ा। लोगों का जीवन और दिनचर्या प्रभावित हुई।

लॉकडाउन में औद्योगिकजगत को भारी नुकसान
लॉकडाउन में सप्लाई और डिमांड रुकने से नौकरी पर संकट खड़ा हुआ तो लोगों ने नए प्रोडक्ट की खरीद बंद कर दी या नाममात्र की। ऐसे में ऑटोजगत को नुकसान हुआ वहीं, साइकिल खरीदने वालों की बाढ़ आ गई। लॉकडाउन के दौरान लोगों को में रहना पड़ा। जिम, व्यायामशालाएं, पार्क बंद होने से लोगों को फिटनेस बनाए रखने के लिए साइकिल सबसे उपयुक्त माध्यम लगा।

साइकिल बिक्री इतनी बढ़ी कि सप्लाई कम पड़ी
साइक्लिंग करना वैसे भी सबसे अच्छी कसरत में गिनी जाती है। ऐसे में लॉकडाउन के दौरान जब सबकुछ ठप रहा तब साइकिल बिक्री ने नए रिकॉर्ड बना दिए। आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में साइकिल की डिमांड इतनी अधिक हुई कि व्यापारी सप्लाई तक नहीं कर पाए।

साइकिल बिक्री का नया रिकॉर्ड बना
दिल्ली के चांदनी चौक साइकिल मार्केट के व्यापारियों ने आईएएनएस को बताया कि कोरोनाकाल में साइकिल बिक्री अचानक तेज हो गई। डिमांड इतनी बढ़ी कि साइकिलें खत्म हो गईं और लुधियाना से खेप का इंतजार करना पड़ा। जबकि, पहले कभी ऐसा नहीं हुआ। वहीं, व्यापारियों ने बताया कि लॉकडाउन अनलॉक के बाद जिम आदि खुलने से बिक्री कम हुई है।…NEXT

 

Read More: मिस्र में फिर मिलीं 25 हजार साल से दफन ममी

भारत की मदद से 150 देश कोरोना संक्रमण थामने में कामयाब

इन 10 देशों में एक भी कोरोना मरीज की मौत नहीं

यूपी के 10 हजार पुलिसकर्मी हो चुके हैं कोरोना संक्रमित

नाक और मुंह मास्क से ढंके होने पर आंखों से एंट्री ले सकता है कोरोना

इस गांव में 16 अगस्त तक एक भी मरीज नहीं था पर अब हर चौथा शख्स पॉजिटिव

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *