Menu
blogid : 316 postid : 1394218

कोरोना से मरने वालों में 50 फीसदी बुजुर्ग और 32 फीसदी महिलाएं, जानिए मार्च से कैसे बदलता रहा डेथ रेट

Rizwan Noor Khan

4 Aug, 2020

 

 

 

देश में कोरोना महामारी ने तेजी से अपने पैर पसार रही है। पिछले एक सप्ताह में हर दिन करीब 50 हजार नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं। मरने वालों में सबसे ज्यादा 60 की उम्र पार कर चुके बुजुर्ग शामिल हैं। कुल मौतों में 32 फीसदी महिलाएं भी दम तोड़ चुकी हैं। देश में कोरोना संक्रमण के मामले 18.55 लाख के पार पहुंच चुके हैं।

 

 

Image Courtesy : Reuters

 

 

मार्च के बाद अब मृत्युदर सबसे कम हुई
एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक देश में कोरोना महामारी के कारण मार्च से लगतार डेथ रेट में बदलाव देखा गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि 25 मार्च के बाद पहली बार कोरोना की वजह से मृत्यु दर सबसे कम 2.10% है। यह कोरोना मरीजों के लिए अच्छा संकेत है।

 

 

Image Courtesy : ANI

 

 

जून के बाद जुलाई में भी घटी मृत्युदर
स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि जून के दूसरे सप्ताह में कोरोना मृत्यु दर 3.36% था। जुलाई के दूसरे सप्ताह में ये घटकर 2.69% हो गया था। अब यह उससे भी नीचे आ गया है। कोरोना मृत्युदर में लगातार गिरावट का मतलब है कि मरीजों को ठीक करने में ज्यादा कामयाबी हासिल हो रही है।

 

 

Image Courtesy : PTI

 

 

मरने वालों में 50 फीसदी बुजुर्ग
रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना से अब तक 38,938 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें सबसे अधिक संख्या बुजुर्गों की है। स्वास्थ्य सचिव के अनुसार देश में होने वाली कुल मौतों में 50 फीसदी मृत्यु 60 और इससे अधिक उम्र के कोरोना पॉजिटिव मरीजों की हुई है। जबकि, 37 फीसदी मृत्यु 45-60 साल के मरीजों की हुई है।

 

 

Image Courtesy : Reuters

 

 

वीक इम्यून सिस्टम और अन्य बीमारियां बनी वजह
बुजुर्गों की अधिक मौत के पीछे की वजह उनका कमजोर इम्यून सिस्टम और कई बीमारियों से पहले ही ग्रसित होना माना जा रहा है। विशेषज्ञों का मानना है कि युवाओं की अपेक्षा बुजुर्गों और अधेड़ उम्र के लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। इसके अलावा वह डायबिटीज, अस्थमा, ब्लड प्रेशर जैसी किसी न किसी समस्या से भी जूझ रहे होते हैं।

 

 

Image Courtesy : Reuters

 

 

कोरोना से 32 फीसदी महिलाओं की मौत
एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों पर रहा है। मौतों को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के जारी ताजा आंकड़े इस बात की पुष्टि भी करते हैं। आंकड़ों के तहत कोरोना से हुई अब तक मौतों में 68 फीसदी पुरुषों की मौत हुई है। जबकि, 32% महिलाओं ने कोरोना के कारण अपनी जान गंवाई है।

 

 

 

 

12.30 लाख मरीज ठीक, 5.86 लाख एक्टिव केस बचे
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 52 हजार नए पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए हैं। देश में अब तक कोरोना संक्रमण के मामले 18,55,746 हो चुके हैं। इनमें से 12,30,510 ठीक हो चुके हैं। जबकि, 5,86,298 एक्टिव केस हैं जिनका उपचार चल रहा है।..NEXT

 

 

 

Read More :

कोरोना के इलाज में कारगर नई दवा को मंजूरी मिली, बिक्री शुरू हुई जानिए दवा की कीमत

फाइनल स्टेज पर पहुंची कोरोना की दो वैक्सीन, दुनियाभर में 23 वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल फेज में

फांसी पर लटकने से पहले ही मर गए 8 हत्यारे, मौत की वजह बनी ये बीमारी

देश के एक राज्य में कोरोना के लाखों संक्रमित और एक में एक भी मरीज नहीं, जानिए राज्यों की ताजा स्थिति

शरीर में चकत्ते और खुजली हो तो लापरवाही न बरतें, ये कोरोना संक्रमण का संकेत, रिसर्च में दावा

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *