Menu
blogid : 316 postid : 1394779

कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों पर वायरस का हमला, अब तक 7 हजार से ज्यादा की मौत

Rizwan Noor Khan

4 Sep, 2020

कोरोना वायरस में दुनियाभर में तबाही मचा रखी है। कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करने वाले चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों पर बुरी तरह वायरस ने हमला किया है। दुनियाभर में वायरस से संक्रमित हुए 7 हजार से ज्यादा हेल्थ वर्कस की मौत हो चुकी है। सबसे ज्यादा मरने वाले स्वास्थ्यकर्मियों की वैश्विक सूची में भारत 6ठे स्थान पर है।

Image courtesy : REUTERS

सबसे ज्यादा कोरोना मामलों की सूची में 3 देश
अलजजीरा की रिपोर्ट के अनुसार दुनियाभर में 2.64 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना के संपर्क में आ चुके हैं। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के ताजा आंकड़ों के मुताबिक पूरे विश्व में अब तक 868,000 लोग इस वायरस का शिकार होकर दम तोड़ चुके हैं। सबसे ज्यादा कोरोना मामलों की वैश्विक सूची में पहले तीन स्थानों पर क्रमशा अमेरिका, ब्राजील और भारत हैं।

चिकित्साकर्मियों पर वायरस का अटैक
एमनेस्टी इंटरनेशनल के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करने में जुटे चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों पर बुरी तरह से वायरस ने अटैक किया है। वायरस के हमले में अब तक दुनियाभर के 7 हजार से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी और चिकित्सक अपनी जान गवां चुके हैं और हजारों की संख्या में संक्रमित हो चुके हैं।

मेक्सिको में सबसे ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी मरे
सबसे ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों की मौत मेक्सिको में हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक मेक्सिको में कोरोना को हराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले 1300 चिकित्साकर्मियों को अपना शिकार बना लिया है। इसके बाद यूएसए और यूके के स्वास्थ्यकर्मी सबसे ज्यादा मरे हैं। स्वास्थ्यकर्मियों की मौत सूची में टॉप 6 देशों में भारत भी शामिल है।

भारत में 500 से ज्यादा मरे, 80 हजार संक्रमित
सर्वाधिक स्वास्थ्यकर्मियों की मौत सूची के मुताबिक अमेरिका में 1,007 चिकित्साकर्मियों की मौत हुई है। ब्रिटेन में 649 और ब्राजील 634 चिकित्साकर्मी मरे हैं। इसके बाद रूस में 631 और भारत में मरने वाले स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या 573 है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 80 हजार से अधिक स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।

एमनेस्टी ने 5 देशों से तत्काल एक्शन लेने को कहा
एमनेस्टी ने मेक्सिको, अमेरिका, ब्राजील, अफ्रीका और भारत से कहा है कि वह कोरोना से फंटलाइन में लड़ने वाले चिकित्साकर्मियों की उचित तरीके से सुरक्षा के प्रबंध करे। एमनेस्टी के मुताबिक कोरोना महामारी के दौर में हर स्वास्थ्यकर्मी जंग के लिए बॉर्डर की सुरक्षा कर रहे सिपाही से कम नहीं है। सभी देशों से अपील की है वह इस तरह तत्काल कदम उठाएं।…NEXT

 

Read More:  सभी रिकॉर्ड ध्वस्त, 24 घंटे में 83 हजार नए केस मिले

40 फीसदी लोगों को इस साल कोरोना वैक्सीन आने की उम्मीद

कोरोना के इलाज में फेल हुई दवा, ट्रायल्स में नहीं मिली सफलता

म्यूजियम से 132 करोड़ की पेंटिंग चोरी

भारत में 3 वैक्सीन पर हो रहा ट्रायल, एक फाइनल फेज में

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *