Menu
blogid : 316 postid : 1391607

Coronavirus Updates : इस नंबर पर फोन करिए और तत्‍काल कोरोना जांच कराइए

Rizwan Noor Khan

19 Mar, 2020

दुनियाभर में कोरोना वायरस से लोग खौफजदा हैं। यह ऐसा वायरस है जिसकी सही दवा अब तक नहीं खोजी जा सकी है। चीन के वुहान शहर से फैलना शुरू हुआ यह वायरस दुनिया के करीब 170 देशों में पहुंच चुका है। भारत में भी इस वायरस से ग्रसित लोगों की संख्‍या में लगातार इजाफा हो रहा है। इस वायरस से निपटने के लिए सरकार ने हेल्‍पलाइन नंबर जारी किया है।

 

 

 

 

चीन से फैला कोरोना वायरस
चीन के वुहान शहर की सीफूड मार्केट से फैले खतरनाक कोरोना वायरस ने अब चीन के हुबेई और वुहान प्रांत के लोगों की जान ले चुका है।  चीन में एक सप्‍ताह के अंदर बनाए गए स्‍पेशल हॉस्पिटल में इलाज शुरू होने के बाद से मरीजों को ठीक करने सहूलियत हासिल हुई। चीन ने अपने प्रभावित प्रांतों की सीमाओं को लॉक कर दिया है। यहां के लोगों पर कहीं भी आने जाने की पाबंदी लगा दी गई है।

 

 

 

 

170 से ज्‍यादा देश परेशान 
सीएनएन के मुताबिक चीन के बाद सबसे ज्‍यादा इटली और ईरान में इस वायरस ने कहर बरसाया है। विश्‍व के 170 से ज्‍यादा देशों के करीब दो लाख लोगों को अपनी चपेट में ले चुका कोरोना वायरस चिकित्‍सा जगत के लिए चुनौती बना हुआ है। चीन से शुरू हुए इस वायरस ने अब तक 8 हजार से ज्‍यादा लोगों की जान ले ली है।

 

 

 

 

भारत में 145 मरीजों की पुष्टि
जर्मनी, कनाडा, नेपाल, कंबोडिया, श्रीलंका और वियतनाम समेत दर्जन भर से ज्‍यादा देशों में कोरोना वायरस ने अपने पैर पसार दिए हैं। भारत में भी इस वायरस ने अपना कहर शुरू कर दिया है। हर दिन बढ़ती संक्रमित लोगों की संख्‍या 145 पार कर चुकी है। जबकि अब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी है। बड़ी संख्‍या में मिल रहे संदिग्‍ध लोगों को चिकित्‍सीय निगरानी में रखा गया है।

 

 

 

हेल्‍पलाइन नंबर और एडवाइजरी जारी की
भारत ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस की जांच के लिए देश के हर हिस्‍से में लैब बनाई गई हैं। जो पहले 5 लैब बनाई गई थीं उनकी संख्‍या बढ़ा दी गई है। इन लैब्‍स में विशेषज्ञ चिकित्‍सकों की तैनाती की गई है जो सैंपल की जांच कर रहे हैं।  इसके अलावा हेल्‍पलाइन नंबर (+91)11-23978046 भी जारी किया गया है। जिस पर कोई भी व्‍यक्ति कभी भी कॉल करके अपनी पीड़ा बता सकता है उसे तत्‍काल चिकित्‍सीय सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी।…NEXT

 

 

 

Read More:

पता ही नहीं चलती बीमारी और छटपटा कर मर जाता है शिकार, जानिए क्‍या है कोरोना वायरस

800 संतानों का पिता है 100 साल बूढ़ा कछुआ, खत्‍म होती प्रजाति को बचाने के लिए बना प्‍लेब्‍वॉय

मुत्‍यु दंड के दोषी को कैसे दी जाती है फांसी, समझिए पूरी प्रक्रिया

09 महीने में चार बच्‍चों को जन्‍म देने वाली महिला को देख चौंक गए लोग, दुनियाभर के डॉक्‍टर आश्‍चर्य में

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *