Menu
blogid : 316 postid : 859643

महिला यात्रियों को भारत आने से पहले दी जाती है ऐसी चेतावनी जिसे जान आप हो जाएंगे शर्मिंदा

2012 के दिल्ली गैंगरेप के बाद देश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर जिस तरह देश की जनता आंदोलित हो उठी थी उसने विश्वभर की मीडिया का ध्यान भारत में महिलाओं के प्रति होने वाले यौन हिंसा की ओर आकर्षित किया. हाल ही में दिल्ली गैंगरेप के एक अभियुक्त मुकेश सिंह का इंट्रव्यू सामने आया जिसमें वह बेशर्मी से यह दावा कर रहा है कि इस गैंगरेप की शिकार पारामेडिकल छात्रा खुद ही अपनी हत्या के लिए जिम्मेदार है. उसके चेहरे पर पछतावे का कोई निशान नहीं है. इससे यह संदेश सारी दुनिया में गया है कि भारतीय पुरूषों की मानसिकता कितनी विकृत है. क्या सचमुच भारतीय पुरूषों के एक बड़े वर्ग की मानसिकता इस प्रकार की हो गई है?


women tourists_0


ट्रेवेल राईटर कैनडेक रारडॉन भारत की यात्रा के अपने अनुभव के बारे में लिखते हुए कहती हैं कि, “भारत में यात्रा करते समय महिलाओं को काफी सावधानी बर्तनी चाहिए लेकिन इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं. हालांकि मुझे ऐसे कई पुरूष मिले जिन्होंने मुझे गलत तरीके से घूरा पर ऐसे अनगिनत पुरूष मिले जिन्होंने मुझे सेक्स की वस्तु नहीं समझा. चाहे वो किसान हों, दुकानदार हो, फार्मेशिस्ट हो या अध्यापक इनकी विनम्रता, दया भाव और गर्माहट से मैं अचंभित रह गई.”  भारतीय पुरूषों के बारे में किसी विदेशी महिला की इस तरह की राय सुनकर आशा जगती है पर जब आप जानेंगे कि विभिन्न देश अपनी महिला नागरिकों को भारत आने से पहले क्या सलाह देतें हैं तो हैरान रह जाएंगे.


Read: क्यों बच्चे भी कर रहें हैं यौन अपराध…आपकी ये कोशिशें बदल सकती हैं हालात


ब्रिटेन-

पब्लिक ट्रांसपोर्ट, टैक्सी या ऑटो-रिक्शॉ में यात्रा करने से बचें खासकर रात को. अगर आपको टेक्सी लेनी है तो होटलों के टेक्सी रैंक से बुक कराएं और एयरपोर्ट से प्री पेड टेक्सी का इस्तेमाल करें. सड़कों पर घूमने वाले टेक्सी से बचे. अगर आपको एयरपोर्ट पर होटल के टेक्सी ड्राइवर द्वारा रिसीव किया जाए तो बैठने से पहले उसकी ठीक से पहचान कर लें.

OB-YQ994_itouri_G_20130825232947

अमेरिका-

यू एस अपने यहां से भारत आने वाली महिलाओं को यह सलाह देता है कि वे अपनी सूरक्षा का विशेष ध्यान रखें, साप्वजनिक वाहनों के इस्तेमाल से बचें खासकर रात को. अंधेरा ढ़लने के बाद अकेले ना टहलें. निर्जन जगहों पर दिन के किसी भी समय जाने से बचें. अपने होटल के रूम नंबर को गुप्त रखें और यह सुनिश्चित कर लें की आपके होटल रूम के दरवाजें ठीक से बंद होते हैं और उनमें पीप होल हो. मुमकिन हो तो घूमने के लिए अकेले जाने के बजाए दोस्तों के साथ जाएं.


Read: क्यों इस कवच को सड़कों पर पहनकर घूम रही है ये युवती?


कनडा-

औरतों को अकेले घूमने से बचना चाहिए खासकर रात को सार्वजनिक वाहनों, टेक्सी और रोशनी रहित जगहों पर यात्रा करने से बचना चाहिए. इसमें शहरों की सड़कें, गांव की गलियां, बीच सब शामिल हैं. परंपरागत कपड़े पहने और स्थानीय रिवाजों का सम्मान करें.

ऑस्ट्रेलिया-

यह देश भी भारत आने वाली अपनी महिला नागरिकों को कम भीड़भाड़ वाली जगहों, कम रोशनी वाली जगहों और अकेले यात्रा करने से मना करता है.


airindia_881907f


विभिन्न देशों द्वारा जारी अपने महिलाओं के लिए इस मशविरा को पढ़कर एक भारतीय होने के नाते बुरा लगता है. पर हाल के दिनों में विदेशी महिलाओं के साथ हुए यौन हिंसा के अपराध की रोशनी में इन मशविरों की जरूरत को समझा जा सकता है. चाहे वह जपानी युवती के साथ बलत्कार की घटना हो, दिल्ली में हुए पॉलैंड की युवती के साथ हुआ बल्तकार हो या मध्यप्रदेश में स्वीट्जरलैंड के साईकलिस्ट के साथ हुई घटना हो. इस लिस्ट में कई और नाम जोड़़े जा सकते हैं. Next…

Read more:

यौन अपराधों को बढ़ावा देता है व्यक्ति का आक्रामक स्वभाव

14 साल के बच्चे को 10 मिनट में बारह जजों ने दी मौत की सजा

मासूम बच्चियों के प्रति यौन अपराध के लिए आधुनिक महिलाएं कितनी जिम्मेदार

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *