Menu
blogid : 316 postid : 1394543

घर में रहते हुए कोरोना से कैसे निपटें, सरकार ने बताए 6 तरीके, दो सबसे महत्वपूर्ण

Rizwan Noor Khan

21 Aug, 2020

 

 

 

में रहते हुए कोरोना महामारी से बचने और इस दौरान होने वाली मानसिक, शारीरिक और सामाजिक परेशानियों से बचने के लिए सरकार ने 6 तरीके बताए हैं। इन तरीकों को अपनाकर आप खुद को तो मुश्किल से बचा ही सकते हैं, बल्कि अपने अपने परिजनों और दोस्तों को भी सुरक्षित रहने में मदद कर सकते हैं। आइए नजर डालते हैं इन तरीकों पर।

 

 

 

 

मेंटेन कांटेक्ट और कनेक्शन
कोरोना महामारी के दौरान अपने परिजनों, मित्रों और रिश्तेदारों से कनेक्शन बनाए रखें। अगर आप दूर रहते हैं तो अपने माता पिता से रोज बात करें। मोबाइल, ​मेल, सोशल मीडिया के जरिए अपने चाहने वालों से संपर्क में रहें और अपने हालचाल साझा करें। इससे मानसिक स्वास्थ्य ठीक रहेगा और बेवजह की झंझट से मुक्ति मिल सकेगी।

 

 

 

डेली रुटीन बनाएं
महामारी के दौरान सबसे बड़ी चुनौती खुद को स्वस्थ रखने की है। इसके लिए आपको प्रॉपर डेली रुटीन बनाना होगा और उसके अनुसार ही आपको चलना होगा, जैसे, समय पर नींद लेना, नाश्ते और खाना खाने के समय को फिक्स करें। इसके अलावा व्यायाम का समय भी तय करना जरूरी है। इससे आपकी दिनचर्या ठीक रहेगी और आपका स्वास्थ्य भी।

 

 

 

 

 

पुराने शौक और इंट्रेस्ट को जगाएं
कोरोना की वजह से लॉकडाउन में दफ्तर, स्कूल कॉलेज और पब्लिक प्लेस बंद हैं। ऐसे में बाहर निकलने की आजादी पर रोक सी लग गई है जो आपको संभवता बोर कर रही होगी। बोरियत से बचने के लिए आपके पास मौका है अपने पुराने इंट्रेस्ट और शौक को जगाने का। समय की कमी के चलते जो शौक आपने छोड़ दिए थे ये समय उन्हें पूरा करने का है।

 

 

 

कुछ नया सीखकर समय का सदुपयोग करें
लॉकडाउन का यह समय कुछ नया सीखने में बिताएं। इससे आपकी स्किल्स स्ट्रांग होंगी और आप कुछ नया सीख पाएंगे। जैसे कि कोई इंडोर गेम, कुकिंग, डांस, सिंगिंग और लैंग्वेज भी सीख सकते हैं। इसके अलावा आप कोरोना से परेशान लोगों की मदद कर समाजसेवा का अनुभव भी हासिल कर सकते हैं जो आपके जीवन को बदलने वाला साबित हो सकता है।

 

 

 

 

सबसे महत्वपूर्ण हैं ये दो तरीके
कोरोना महामारी के चलते बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य संबंधी फेक न्यूज सोशल मीडिया पर वायरल हो जाती हैं। इन फेक न्यूज से बचना बेहद महत्वपूर्ण है। इन फेक न्यूज के शिकार होकर आप तनाव में जा सकते हैं या फिर नींद न आने की समस्या से गुजर सकते हैं। इसके अलावा दूसरा महत्वपूर्ण तरीका है कोरोना से जुड़ी न्यूज हासिल करने का विश्वसनीय स्रोत ढूंढना। कोरोना संबंधित खबरें, डाटा सिर्फ सरकारी स्रोतों से ही हासिल करें।..NEXT

 

 

 

Read More :

आक्सीजन सपोर्ट पर हैं 2.62 फीसदी कोरोना मरीज, जानिए कितने पेशेंट आईसीयू में और कितने वेंटीलेटर पर

कोरोना वैक्सीन बनने से पहले ही डोज खरीदने की होड़, इस देश ने 6 करोड़ खुराक का सौदा किया

8 दिन में रिकॉर्ड 3 फीसदी बढ़ा कोरोना रिकवरी रेट, मृत्युदर घटकर नीचे आई

कोरोना फ्री घोषित देशों में फिर से लौट रहा वायरस, अचानक बढ़ने लगे मरीज

शरीर में चकत्ते और खुजली हो तो लापरवाही न बरतें, ये कोरोना संक्रमण का संकेत, रिसर्च में दावा

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज

 

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *