Menu
blogid : 316 postid : 1398273

महाराष्ट्र और दिल्ली में नहीं थम रहा ओमीक्रॉन, देशभर में कुल 236 केस, जानें कितने ठीक हुए

देश में ओमीक्रॉन वैर‍िएंट के मामले बढ़ते जा रहे हैं। महाराष्‍ट्र और द‍िल्‍ली में सर्वाध‍िक मामले पाए गए हैं। ओमीक्रॉन अब 16 राज्‍यों में पहुंच गया है। 48 घंटे के अंदर 4 राज्‍यों में नए केस पाए गए हैं। देश में 24 घंटे में 400 से अध‍िक कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, देश में अब वैक्‍सीनेशन का आंकड़ा 139 करोड़ के पार पहुंच चुका है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 23 Dec, 2021

 

 

7 हजार से अध‍िक नए कोरोना केस दर्ज
केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार प‍िछले 24 घंटे में 7,495 नए कोरोना पॉज‍िट‍िव केस दर्ज क‍िए गए हैं। बीते द‍िन 22 द‍िसंबर को 6,317 केस पाए गए थे और उससे पहले 21 द‍िसंबर को 5,326 केस दर्ज क‍िए गए थे। वहीं, 20 द‍िसंबर को 6,563 और 14 द‍िसंबर को 5,784 केस पाए गए थे।

दैन‍िक मौतें, र‍िकवरी और सक्र‍िय मामले
दैन‍िक मौतों की संख्‍या में लगातार उतार चढ़ाव देखा जा रहा है। प‍िछले 24 घंटे में 434 मरीजों की मौत हुई है। बीते द‍िन 22 दिसंबर को 318 मौतें हुई थीं। वहीं, प‍िछले 24 घंटे में ठीक होने वाले मरीजों की संख्‍या 6,960 दर्ज की गई है। बीते द‍िन 22 दिसंबर को 6,906 मरीजों ने कोरोना को हराया था। देश में अब कुल एक्‍ट‍िव केस की संख्‍या 78,190 बची है।

236 ओमीक्रॉन केस में 104 ठीक हुए
देश में 48 घंटे के अंदर 4 राज्‍यों में ओमीक्रॉन वैर‍िएंट पहुंच चुका है। जम्‍मू और कश्‍मीर, ओड‍िशा और लद्दाख के बाद अब उत्‍तराखंड में भी ओमीक्रॉन के मामले सामने आए हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार उत्‍तराखंड में 1 केस पाया गया है। देश में अब 16 राज्‍यों में ओमीक्रॉन के कुल मामले 236 हो गए हैं। हालांक‍ि, इनमें से 104 संक्रमित र‍िकवर हो चुके हैं।

 

 

महाराष्‍ट्र और द‍िल्‍ली में सर्वाध‍िक मामले- 
ओमीक्रॉन वैर‍िएंट के सबसे ज्‍यादा केस महाराष्‍ट्र और द‍िल्‍ली में दर्ज क‍िए जा चुके हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार महाराष्‍ट्र में ओमीक्रॉन मामले बढ़कर 65 हो गए हैं। दिल्ली में 64, तेलंगाना में 24, राजस्‍थान में 21, कर्नाटक में 19, केरल में 15 और गुजरात में 14 केस हो गए हैं। इसके अलावा लद्दाख, उत्‍तराखंड, आंध्रप्रदेश, चंडीगढ़, तम‍िलनाडु, पश्चिम बंगाल में 1-1 केस हैं।

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *