Menu
blogid : 15292 postid : 684371

ग़ज़ल- सारथी || बहुत चर्चा हमारा हो रहा है ||

Saarthi Baidyanath

  • 15 Posts
  • 0 Comment

बहुत चर्चा हमारा हो रहा है
इशारों में इशारा हो रहा है !
………………………………………..
लकीरें हाथ की बेकार हैं सब
समझिये बस गुजारा हो रहा है !
………………………………………..
न जाने रूह पे गुजरी है क्या क्या
बदन का खून खारा हो रहा है !
………………………………………..
बड़ी हैरत में हैं तारे गगन के
कोई जुगनू सितारा हो रहा है !
………………………………………..
तुम अपनी धड़कनों को साधे रखना
तुम्हारा दिल हमारा हो रहा है !

#saarthibaidyanath

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *