Menu
blogid : 19157 postid : 1314715

अगर आपके जीवन में भी भारी है शनि, तो शनिवार को करें ये उपाय

शनिदेव न्याय के देवता हैं इसलिए जिस व्यक्ति पर शनि की कृपा रहती है उसके जीवन में सबकुछ अच्छा ही होता है. लेकिन अगर आपके ऊपर शनि की महादशा चल रही हो, तो सारे बने काम भी बिगड़ जाते हैं और जीवन में कष्ट रहता है और एक-एक करके परेशानियां आने लगती है. व्यक्ति शारीरिक मानसिक और प्रोफेशनल रूप से दुखी रहता है इसलिए शनि की महादशा और साढ़ेसाती से हर इंसान डरता है. लेकिन अगर आप सच्चे मन से शनि की पूजा करें तो आपके कष्ट दूर हो जाएंगे.


cover shani


पीपल के पेड़ के पास जलाएं दीया

यदि सूर्यास्त के समय पीपल के पेड़ के पास दिया जलाया जाये, तो शनिदेव की कृपा दृष्टि पड़ने लगती है. कोशिश करें की पेड़ किसी मंदिर में लगा हो. अगर ऐसा पीपल के पेड़ में सूर्य अस्त होते समय दीया जलाया जाये शनि की महादशा समाप्त होने लगती है.


shani-devs-



शनिवार को करें तेल दान

शनिवार के दिन सुबह उठकर होकर स्नान करें, उसके बाद एक कटोरी तेल से भरे और उस तेल में अपना चेहरा देखें और फिर उस तेल को शनिवार को ही किसी गरीब या जिसे जरूरत हो उसे दान कर दें. वैसे भी शनिवार को तेल का दान करना शनिदेव को प्रसन्न करने का उपाय बताया गया है.


lord-shani-



इस मंत्र का करें जाप

अगर आप फूल नहीं चढ़ा सकते और सुबह तेल दान नहीं कर सकते, तो आप रुद्राक्ष की माला लेकर एक सौ आठ बार ॐ शं शनैश्चराय नमः का जप करें, शनिदेव की कृपा बनेगी और महादशा दूर होगी.


shani-

हनुमान जी की करें पूजा

शनिदेव ने हनुमान जी को वचन दिया था कि जो आपकी पूजा करेगा मेरी भी कृपा उस पर पड़ेगी, इसलिए हनुमान जी की पूजा करने को भी कहा जाता है. लेकिन बहुत कम लोग जानते है की बंदरों को गुड चना खिलाने से भी हनुमान जी प्रसन्न होते हैं, क्योंकि उनकी पूजा बानर रूप में ही की जाती है.


Shani dev and Lord Hanuman


शनि को चढ़ाएं इस रंग का फूल

अगर आप किसी शनि मंदिर में जाते हैं और अगर उनकी प्रतिमा पर फूल चढ़ाते हैं, तो ध्यान रखें कि नीले रंग के फूल चढ़ाएं. उन्हें ये प्रिय है. शनिवार को दान पुण्य करने से भी शनि की कृपा बनती है. इसके अलावा मन साफ रखें, गलत विचार मन में ना लाएं और किसी पर अत्याचार ना करें. दूसरों की मदद करें शनिदेव न्याय के देवता हैं, ऐसे में वो अपने भक्तों के साथ हमेशा अच्छा ही करते हैं…Next


Read More:

इस गुफा में हुआ था रामभक्त हनुमान का जन्म ?

भक्त हनुमान ने इस ऋषि के श्राप से बचाया था श्रीराम को, मिलने वाला था मृत्युदंड

देश में इन दो जगहों पर है श्री हनुमान और उनके पुत्र का मंदिर


इस गुफा में हुआ था रामभक्त हनुमान का जन्म ?
भक्त हनुमान ने इस ऋषि के श्राप से बचाया था श्रीराम को, मिलने वाला था मृत्युदंड
देश में इन दो जगहों पर है श्री हनुमान और उनके पुत्र का मंदिर

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *