Menu
blogid : 15458 postid : 690562

जब पति ही मजबूरी बन जाए!!

Relationships & Counselling

  • 20 Posts
  • 23 Comments

मैरेड लाइफ के अपने ही झमेले होते हैं. यूं तो ये भी किसी प्रेम संबंध से कम नहीं होता लेकिन साधारण प्रेम संबंध में आपके पास विकल्पों की भरमार रहती है. मतलब अगर आप अपनी गर्लफ्रेंड या ब्वॉयफ्रेंड के साथ सहज नहीं हैं या उनसे अपेक्षित अपनापन आपको नहीं मिल रहा है तो आप संबंध से किनारा कर सकते हैं लेकिन शादी के बाद आपके सारे विकल्प समाप्त हो जाते हैं और आपको अपने जीवनसाथी के साथ हर हाल में बसर करना होता है. कम से कम भारतीय समाज में तो कुछ ऐसा ही है. अब आप चाहे इसे मजबूरी के तौर पर निभाएं या फिर संबंध को ही अपना एक पैशन बना लें ये आपकी मर्जी है.


extramarital affairसीमा का कहना है कि उनकी मैरेड लाइफ बहुत बोरिंग हो चुकी है. उनके पति उनकी तरफ बिल्कुल ध्यान नहीं देते हैं और ना ही उन्हें प्यार करते हैं. अब ऐसे हालातों में सीमा अपने पड़ोस में रहने वाले युवक के प्रति आकर्षित होने लगी हैं और उन्हें लगता है कि वो उस युवक के प्रेम में पड़ चुकी हैं. हालात अब ज्यादा इसलिए बिगड़ने लगे हैं क्योंकि युवक भी उनके प्रति अपने प्यार का इजहार कर चुका है. एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर की कगार पर पहुंच चुकीं सीमा अब अपने आप और अपनी अपेक्षाओं को लेकर बहुत कंफ्यूज्ड हैं.


सीमा, मुझे नहीं लगता कि एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर किसी समस्या का समाधान हो सकता है. आप अपने पति के साथ खुश नहीं हैं, आपके पति आपसे प्यार नहीं करते, वगैरह-वगैरह. ऐसा कोई भी बहाना विवाहित जीवन के लिए घातक सिद्ध हो सकता है. आपको ये बात समझनी चाहिए कि शादीशुदा जिन्दगी में एक छोटी सी हवा भी तूफान को जन्म दे सकती है. इसलिए आपको किसी दूसरे से आकर्षित होने से बेहतर अपने संबंध को एक और चांस देने के बारे में सोचनी चाहिए. जितनी मेहनत आप किसी अन्य संबंध को बनाने में करेंगे उतनी मेहनत आप मौजूदा संबंध को सुधारने और उसमें प्रेम भरने के लिए करें तो वो सही निर्णय होगा. आप खुद ही सोचिए अगर आपके पति को आपके एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के बारे में पता चले तो क्या होगा…!!


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *