Menu
blogid : 321 postid : 1389383

योगी कैबिनेट में होंगे बदलाव! घटाए जा सकते हैं विभाग

उत्‍तर प्रदेश की सियासत में इन दिनों काफी हलचल है। एक ओर उन्‍नाव गैंगरेप मामला सुर्खियों में छाया है, तो दूसरी ओर प्रदेश सरकार में कुछ बदलाव के संकेत मिल रहे हैं। भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह के यूपी दौरे को लेकर ऐसी चर्चाएं थीं कि उनके दौरे के बाद प्रदेश सरकार में कुछ बदलाव होंगे। अब शाह के दौर के बाद खबरें आ रही हैं कि सूबे की कैबिनेट में बदलाव हो सकते हैं। आइये आपको इसके बारे में विस्‍तार से बताते हैं।

 

 

जल्द ही देखने को मिल सकते हैं बड़े बदलाव

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर प्रदेश सरकार की कैबिनेट में जल्द ही बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और योगी आदित्यनाथ के बीच हुई मैराथन बैठक के बाद राज्य सरकार ने विभिन्न विभागों को एक साथ मिलाकर उनकी संख्या 90 से 34 तक लाने की कवायद शुरू कर दी है। व्यवस्था केंद्र की तरह हो सकती है, जहां एक मंत्रालय की जिम्मेदारी एक कैबिनेट मंत्री के साथ उनके जूनियर साथी को भी दी जाती है। बताया जा रहा है कि एक तरफ इससे खराब प्रदर्शन करने वालों से निजात मिलेगी, तो वहीं नए चेहरों को कैबिनेट में शामिल किया जा सकेगा।

 

फाइनल ड्राफ्ट प्लान तैयार

खबरों की मानें, तो सरकार के उच्च सूत्रों का कहना है कि नीति आयोग की अनुशंसाओं के आधार पर स्टेट प्लानिंग डिपार्टमेंट ने इस बदलाव के लिए फाइनल ड्राफ्ट प्लान तैयार कर लिया है। इसे अगले महीने किसी भी समय लागू किया जा सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक कैबिनेट मंत्री ने बताया कि इस संबंध में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की तरफ से अंतिम फैसला जल्द लिया जाएगा। प्रस्ताव के मुताबिक, एक मंत्री के पास दो या दो से अधिक नहीं, बल्कि केवल एक विभाग की जिम्मेदारी होगी।

 

 

केंद्र सरकार की तरह होगी व्यवस्था 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंत्री ने बताया कि ऐसी स्थितियां हैं, जहां एक अधिकारी एक से अधिक मंत्रियों को रिपोर्ट करता है। ऐसे में अक्षमता को बढ़ावा मिलता है। नई व्यवस्था में नए लोगों को भी मौका मिलेगा, चाहे वह जूनियर मिनिस्टर के तौर पर ही क्यों न हो। मंत्री का कहना है कि यह व्यवस्था केंद्र सरकार की तरह होगी, जहां हर मंत्रालय की जिम्मेदारी एक कैबिनेट मंत्री और उनके जूनियर साथी (राज्य मंत्री) पर होती है।

 

नई व्यवस्था पर दोनों नेता सहमत

बताया जा रहा है कि ऐसे में यूपी काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स की संख्या 68 तक हो सकती है। हालांकि, इसकी अधिकतम स्वीकार्य संख्या 60 ही है। बुधवार को अमित शाह, योगी आदित्यनाथ और पार्टी पदाधिकारियों के बीच हुई मैराथन बैठक के दौरान इस प्लान पर भी बातचीत हुई। मीटिंग की बातों की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि शाह और योगी, दोनों ही नेता इस नई व्यवस्था पर सहमत हैं…Next

 

Read More:

स्‍टारडम मिलने के बाद भी अपने परिवार के साथ ही रहते हैं ये 5 बॉलीवुड एक्टर

चेन्‍नई सुपर किंग्‍स की जीत से IPL में बन गया एक बेहद खास रिकॉर्ड

बॉलीवुड के वो 5 स्टार्स, जो अपनी फिल्मों में खुद करते हैं एक्‍शन स्‍टंट!

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *