Menu
blogid : 321 postid : 1390395

पुलवामा टेरर अटैक : पूर्व पत्नी रेहाम ने पाक पीएम इमरान खान को बताया सेना की कठपुतली, बयान पर उठाए ये सवाल

“हमारी जमीन से कोई वहां जाकर हमला नहीं किया। फिर भी किसी किस्म की आप तहकीकात करना चाहें तो हम तैयार हैं। पाकिस्तान की संलिप्तता का आप सुबूत देंगे तो गारंटी देता हूं कि मैं एक्शन लूंगा। इमरान खान ने यह भी कहा कि अगर भारत युद्ध करेगा तो पाकिस्तान सोचेगा नहीं बल्क जवाब देगा। क्योंकि पाकिस्तान के पास इसके अलावा कोई विकल्प नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि हम सब जानते हैं कि युद्ध शुरू करना आसान है, यह इंसान के हाथ में है, मगर युद्ध खत्म करना इंसान के हाथ में नहीं होता। यह मसला आखिर में डॉयलाग से हल होगा।”

Pratima Jaiswal
Pratima Jaiswal 20 Feb, 2019

 

पूर्व पत्नी रेहाम खान के साथ पाकिस्तान पीएम इमरान खान

 

पुलवामा टेरर अटैक पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने खुद को हमले से अलग करते हुए ये सफाई दी है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर कई हस्तियां और आम लोग अपनी राय दे चुके हैं।

 

 

‘बहुत देर बाद क्यों आया बयान?’
वहीं, इमरान खान की पूर्व पत्नी रेहाम खान ने इमरान के इस बयान को झूठ बताया है। रेहाम ने हाल ही में एक चैनल को इंटरव्यू देते हुए कहा “वह न सिर्फ विषयों को टाल गए हैं, बल्कि वह इसके लिए निर्देशों की प्रतीक्षा कर रहे थे।” उन्होंने कहा कि इमरान खान का मंगलवार का बयान बहुत नपा-तुला हुआ था। वह वही बोले जो उन्हें बोलने के लिए कहा गया था। उनका बयान बहुत संतुलित और कूटनीतिक तरीके से टिक किया हुआ था। मेरे विचार से हालांकि उनका बयान बहुत देर से आया।“

 

 

‘इतने बड़े हमले की नहीं की निंदा, सेना की कठपुतली इमरान’
पाक पीएम की पूर्व पत्नी ने कहा “यह मेरी निजी राय है लेकिन एक बार किसी भी देश में इतनी बड़ी घटना हो जाती है, चाहे वह भारत हो या दुनिया का कोई अन्य देश, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को उसकी कड़ी निंदा करनी चाहिए थी।” तीस अक्टूबर 2015 में इमरान खान से अलग हो रेहम ने कहा कि पुलवामा हमले और ईरान की घटना (जिसमें 27 ईरानी सुरक्षा गार्ड मारे गए) को लेकर उन्होंने कोई ट्वीट नहीं किया है। वह (इमरान) आसानी से सर्दियों की बारिश के बारे में ट्वीट कर रहे हैं। इसलिए मैं थोड़ी हैरान हूं।“ ….Next

 

Read More :

बीजेपी में शामिल हुई ईशा कोप्पिकर, राजनीति में ये अभिनेत्रियां भी ले चुकी हैं एंट्री

यूपी कांग्रेस ऑफिस के लिए प्रियंका को मिल सकता है इंदिरा गांधी का कमरा, फिलहाल राज बब्बर कर रहे हैं इस्तेमाल

इस भाषण से प्रभावित होकर मायावती से मिलने उनके घर पहुंच गए थे कांशीराम, तब स्कूल में टीचर थीं बसपा सुप्रीमो

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *