Menu
blogid : 321 postid : 1390143

‘2019 में पीएम बनना चाहेंगे आप?’ इस सवाल का नितिन गडकरी ने मीडिया को दिया ये जवाब

Pratima Jaiswal

21 Dec, 2018

नेताओं से सवालों-जवाबों का दौर हमेशा से जनता के लिए दिलचस्पी का विषय रहा है। राजनीति के गलियारों में भी नेताओं के बयानों और सवालों-जवाबों के बारे में हमेशा चर्चा होती रहती है। कुछ ऐसा ही किस्सा पेश आया नितिन गडकरी के साथ, जिनसे मीडिया ने एक सवाल किया और उनका जवाब सुर्खियों में आ गया।

 

 

‘क्या 2019 में पीएम बनना चाहते हैं आप?’

हाल ही में एक न्यूज एजेंसी ने नितिन गडकरी से पूछा ‘क्या 2019 में नरेंद्र मोदी की जगह बीजेपी की तरफ से वह प्रधानमंत्री पद का चेहरा होंगे?’ जवाब में नितिन गडकरी ने इससे साफ-साफ इनकार करते हुए कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में पीएम का दावेदार बनने की उनकी कोई इच्छा नहीं है।
केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने प्रधानमंत्री पद की दावेदारी को खारिज करते हुए ये भी कहा कि मैं अभी जिस जगह पर हूं, वहां खुश हूं। 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री बनने की उनकी कोई इच्छा नहीं है। उनके मुताबिक उन्होंने जो कुछ हासिल किया है, उससे वह संतुष्ट हैं। उन्होंने कहा कि मुझे गंगा प्रोजेक्ट सहित चारधाम रोड जैसे महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट को पूरा करना है।

 

 

‘फिलहाल गंगा प्रोजेक्ट पर ध्यान’
केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘मुझे गंगा प्रोजेक्ट पूरा करना है। एक्सेस कंट्रोल हाइवे का निर्माण करना है। मैं चारधाम रोड और अन्य प्रोजेक्ट को पूरा करना चाहता हूं। मैं जो काम कर रहा हूं उससे खुश हूं और इसे पूरा करना चाहता हूं।’

 

 

पिछले दिनों एक कार्यक्रम में हो गए थे बेहोश
महाराष्ट्र के अहमदनगर में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तबियत खराब हो गई थी। गडकरी स्टेज पर ही बेहोश होकर गिर पड़े थे। इस दौरान महाराष्ट्र के राज्यपाल विद्यासागर राव उनके साथ मौजूद थे। गवर्नर ने ही उन्हें स्टेज पर संभाला। नितिन गडकरी को अस्पताल ले जाया गया। हालांकि, नितिन गडकरी के ऑफिस से बाद में ट्वीट कर जानकारी दी गई कि ‘उनकी तबियत अब ठीक है और वह अपने अन्य कार्यक्रम में जा रहे हैं। चेकअप कराने के बाद गडकरी शिरडी के लिए जा रहे हैं, वह साईं मंदिर में दर्शन करेंगे…Next

 

Read More :

करोड़ों रुपए, BMW कार, ढाई किलो गोल्ड की मालकिन है ये युवा नेता, दौलत के मामले में बड़े-बड़े नेता नहीं दे पाते टक्कर!

इन घटनाओं के लिए हमेशा याद रखे जाएंगे वीपी सिंह, ऐसे गिरी थी इनकी सरकार

वो 3 गोलियां जिसने पूरे देश को रूला दिया, बापू की मौत के बाद ऐसा था देश का हाल

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *