Menu
blogid : 321 postid : 1389483

कर्नाटक के इस लग्जरी रिजॉर्ट में रुके हैं कांग्रेस के विधायक, मौजूद हैं कई लग्जरी फैसिलिटी

Shilpi Singh

17 May, 2018

कर्नाटक में जारी सियासी ड्रामा अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में विधायकों की टूट के डर से कांग्रेस ने अपने एमएलए एक रिजॉर्ट में ठहराए हैं। आइए जानते हैं कि कर्नाटक में जारी सियासी उठापटक और उस लग्ज री रिजॉर्ट के बारे में जहां पहली बार विधायक नहीं ठहराए गए हैं।

 

 

येदियुरप्पा ने ली मुख्यामंत्री पद की शपथ, बहुमत साबित करने की चुनौती
राज्य में गुरुवार को राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीएस येदियुरप्पान को मुख्यीमंत्री पद की शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद येदियुरप्पा के सामने सदन में बहुमत साबित करने की चुनौती है। विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए बीजेपी को राज्यपाल से 15 दिन का समय मिला है। कांग्रेस-जेडीएस को मौका न देकर येदियरप्पा को बुलाने के राज्य‍पाल के फैसले के खिलाफ कांग्रेस रात में सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी। जिसने बीजेपी से समर्थक विधायकों की लिस्ट व राज्यपाल को दिए समर्थन पत्र की मांग की है। मामले की दोबारा सुनवाई शुक्रवार की सुबह 10.30 बजे होनी है।

 

 

विधायकों को रिजॉर्ट लेकर पहुंची कांग्रेस

बीजेपी ने भले ही सरकार बना ली हो, लेकिन कांग्रेस और जेडीएस ने अभी तक हार नहीं मानी है। इसलिए कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों को ईगलटन रिजॉर्ट में रखा है ताकि वो किसी भी तरह से अपने विधायकों को टूटने से बचा सके। बीजेपी शुरू से कह रही है कि उनके संपर्क में जेडीएस-कांग्रेस के विधायक हैं, ऐसे में कांग्रेस ने ईगलटन रिसॉर्ट में अपने विधायकों का नया घर बना दिया है। बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव की 222 सीटों पर आए नतीजों में बीजेपी को 104 सीटें मिली हैं, जो कि बहुमत से 8 कम हैं. कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37, बसपा को 1 और अन्य को 2 सीटें मिली हैं।

 

 

509 एकड़ में फैला है ईगलटन रिजॉर्ट

बंगलुरू मैसूर रोड पर स्थित ईगलटन रिजॉर्ट 509 एकड़ में फैला हुआ है। रिजॉर्ट में आधुनिक सुख-सुविधाओं से युक्तै 132 कमरे हैं। रिजॉर्ट में गोल्फ कोर्स, स्वीमिंग पूल, इंटरनेशनल रेस्तसरां समेत तमाम आलीशान सुविधाएं उपलब्ध हैं। इतना ही नहीं जिम व मेडिटेशन रूम भी है। रिजॉर्ट में सुरक्षा के भी पुख्ताग इंतजाम हैं।

 

 

इस रिजॉर्ट से कांग्रेस का पुराना नाता

 

 

कांग्रेस और इस रिजॉर्ट का नाता पुराना है दरअसल यह वही रिजॉर्ट है जिसमें पार्टी ने राज्य सभा चुनाव के दौरान गुजरात के अपने विधायकों को टिकाया था। इस डर से कि कहीं वह पाला न बदल लें। यह पहली बार नहीं है कि कर्नाटक में पाला बदलने के डर से अपने विधायकों को किसी राजनीतिक दल ने इस रिजॉर्ट में टिकाया है, ऐसा पहले भी हो चुका है।…Next

 

 

Read More:

मायावती ने उपचुनावों में सपा से दूरी बनाकर चला बड़ा सियासी दांव!

कर्नाटक में बज गया चुनावी बिगुल, ऐसा है यहां का सियासी गणित

राज्यसभा के बाद यूपी में एक बार फिर होगी विधायकों की ‘परीक्षा’

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *