Menu
blogid : 321 postid : 1391141

धरना-प्रदर्शन नहीं करेगी देश की सबसे बड़ी पार्टी, नेताओं और कार्यकर्ताओं को दिशानिर्देश जारी

Rizwan Noor Khan

18 Mar, 2020

देश की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी ने ऐलान किया है कि अब वह किसी भी तरह के प्रदर्शन और धरने में हिस्‍सा नहीं लेगी। इस पार्टी से जुड़े हर कार्यकर्ता को इस सबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। विशेषज्ञों के अनुसार राजनीतिक इतिहास में यह पहली बार है जब किसी सत्‍ताधारी दल ने इस तरह का फैसला लिया है।

 

 

 

 

 

 

एक महीने तक कोई आंदोलन नहीं
देश में सत्‍ता पर काबिज और देश की सबसे बड़े राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी ने ऐलान किया है कि वह अब किसी भी तरह के धरने और प्रदर्शन में शामिल नहीं होगी। यह आदेश अगले एक महीने तक पूरे देश में उसके कार्यकर्ताओं और नेताओं पर लागू रहेगा। दरअसल, इस फैसले के पीछे जानलेवा कोरोना वायरस है।

 

 

 

 

कोरोना वायरस फैसले की वजह
दुनियाभर के 162 से ज्‍यादा देशों में कहर बरपा रहा कोरोना वायरस अब भारत में भी लोगों को अपना शिकार बना रहा है। अब तक इस वायरस की वजह से महाराष्‍ट्र, दिल्‍ली और केरल में एक एक व्‍यक्ति जान गवां चुका है। जबकि, देश के विभिन्‍न राज्‍यों में करीब 145 लोग इस वायरस की चपेट में पाए गए हैं।

 

 

 

 

 

धरना प्रदर्शन से दूर रहने के आदेश
कोरोना वायरस को रोकथाम के लिए विशेषज्ञों ने लोगों को एक दूसरे के संपर्क में न आने और एकांत में रहने की सलाह दी है। क्‍योंकि यह वायरस संक्रमण के जरिए एक से दूसरे व्‍यक्ति में बहुत तेजी से फैलता है। इसी के मद्देनजर भाजपा के शीर्ष नेतृत्‍व ने यह फैसला लिया है कि उसके नेता और कार्यकर्ता अगले एक महीने तक किसी भी धरना और प्रदर्शन का हिस्‍सा नहीं बनेंगे।

 

 

 

 

जेपी नड्डा ने दिशानिर्देश दिए
दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जय प्रकाश नड्डा ने कहा कि कोरोना वायरस को हराने के लिए अगले एक महीने तक पार्टी किसी भी तरह के आंदोलन, धरना और प्रदर्शन का हिस्‍सा नहीं बनेगी। किसी भी विषय पर चर्चा करने के लिए चार पांच वरिष्‍ठ कार्यकर्ता संबंधित अधिकारी को ज्ञापन देंगे। सभी प्रदेश ईकाइयों को इस संबंध में दिशानिर्देश दिए गए हैं।…NEXT

 

 

 

Read More :

जनेश्‍वर मिश्र ने जिसे हराया वह पहले सीएम बना और फिर पीएम

फ्रंटियर गांधी को छुड़ाने आए हजारों लोगों को देख डरे अंग्रेज सिपाही, कत्‍लेआम से दहल गई दुनिया

ये 11 नेता सबसे कम समय के लिए रहे हैं मुख्‍यमंत्री, देवेंद्र फडणवीस समेत तीन नेता जो सिर्फ 3 दिन सीएम रहे

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *