Menu
blogid : 26149 postid : 3683

साइंटिस्‍ट ने खोजा दुनिया का सबसे छोटा गिरगिट, सूरजमुखी के बीज जितना है आकार

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 5 Feb, 2021

जीव-जंतुओं की नई प्रजातियों के खोज में जुटे साइंटिस्‍ट को बड़ी सफलता हाथ लगी है। जीव विज्ञानियों के दल का दावा है कि उन्‍हें दुनिया का सबसे छोटा गिरगिट का जोड़ा मिला है। यह अब तक मिले सरीसृप प्रजाति का सबसे छोटा प्राणी माना जा रहा है। इस गिरगिट का आकार सिर्फ सूरजमुखी के बीज के बराबर है और इसे अंगुलियों के बीच छिपाया जा सकता है।

Nano Chameleon. Video grab courtesy- Reuters

मेडागास्‍कर में मिला सबसे छोटा सरीसृप
जर्मनी और मेडागास्‍कर के जीव विज्ञानियों की टीम उत्‍तरी मेडागास्‍कर के वनीय इलाके में गिरगिट की सबसे छोटी उपप्रजाति की खोज की है। रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार जीव विज्ञानियों को दो मेल और फीमेल गिरगिट मिले हैं। इनका आकार सूरजमुखी के बीज के जितना है। यह अब तक मिले 11500 सरीसृप प्रजातियों में सबसे छोटा माना जा रहा है।

Nano Chameleon. Video grab courtesy- Reuters

नर गिरगिट का आकार मादा से छोटा
जीवविज्ञानियों के अनुसार मादा गिरि‍गट की अपेक्षा नर गिरगिट का आकार छोटा है। नर गिरगिट का साइज नाक से लेकर पूंछ तक मात्र 0.87 इंच है। इससका आकार अन्‍य सरीसृप जीवों में सबसे छोटा है। वहीं, मादा गिरगिट का आकार 1.14 इंच है। इस प्रजाति का नजदीकी रिश्तेदार थोड़ा बड़ा है और उसे ब्रुकेशिया माइक्रा (Brookesia micra) कहा जाता है, जिसकी खोज की घोषणा 2012 में की गई थी।

Nano Chameleon. Video grab courtesy- Reuters

प्रजाति बचाने के लिए वन काटने पर रोक
जर्मनी के हैम्बर्ग स्थित नेचुरल हिस्‍ट्री सेंटर के साइंटिस्‍ट ओलिवर हॉलिस्‍चेक के अनुसार इस नैनो-गिरगिट का निवास स्‍थान मेडागास्‍कर के जंगल हैं। लंबे समय से इन जंगलों की कटाई जारी थी पर अब इसे संरक्षित घोषित किया गया है। यह निर्णय नैनो-गिरगिट प्रजाति के संरक्षण के लिए बड़ा कदम माना जा रहा है।

 

00

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *