Menu
blogid : 26149 postid : 3421

सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें टॉप 11 की सूची में भारत किस नंबर पर

दुनियाभर में सबसे ज्यादा ऐतिहासिक महत्व की धरोहरें किस देश में हैं, इस बात पर अकसर ही बहस होती रही है। वैश्विक स्तर पर ऐतिहासिक स्माारकों और स्थलों का संरक्षण करने वाली संसथा यूनेस्को ने टॉप 11 देशों की सूची जारी की है। इस सूची में बताया गया है कि किस देश में सबसे ज्यादा वैश्विक महत्व की हैरिटेज साइट मौजूद हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 1 Dec, 2020

यूनेस्को की टॉप 11 सूची
दुनियाभर में लोगों के पर्यटन का मुख्य आकर्षण और केंद्र ऐतिहासिक स्थल, स्मारक और इमारतें होती हैं। ऐसे में ये जानना जरूरी हो जाता है कि कौन से देश में कितनी वैश्विक महत्व की ऐतिहासिक धरोहरें मौजूद हैं। यूनेस्को के मुताबिक सबसे ज्यादा हैरिटेज साइट वाले टॉप 11 देशों में इटली, चीन, स्पेन, भारत जैसे देश शामिल हैं।

टॉप 5 में इटली पहले नंबर पर
सबसे ज्यादा विश्व ऐहितासिक स्थल इटली में हैं। यूनेस्को के अनुसार इटली में सबसे ज्यादा 55 वैश्विक स्तर के ऐतिहासिक स्थल मौजूद हैं। दूसरे नंबर चीन में भी 55 ऐतिहासिक स्थल हैं। तीसरे नंबर पर स्पेन में 48, चौथे नंबर पर जर्मनी में 46 और पांचवें नबर पर फ्रांस में 45 विश्व धरोहर स्थल मौजूद हैं।

भारत में 38 विश्व ऐतिहासिक स्थल
सबसे ज्यादा हैरिटेज साइट सूची में भारत छठवें स्थान पर है। भारत में कुल 38 वैश्विक स्तर की ऐतिहासिक धरोहरें हैं। इनमें सबसे पहले नंबर सात अजूबों में से एक ताजमहल है। अजंता और ऐलोरा की गुफाएं, कोर्णाक का सूर्य मंदिर, आगरा फोर्ट, हुमायूं मकबरा, कुतुब मीनार, काजीरंगा नेशनल पार्क, लाल किला, जंतर मंतर समेत कुल 38 स्मारक, इमारतें और स्थल हैं जिन्हें यूनेस्को ने विश्व ऐतिहासिक स्थल की सूची में रखा है।

टॉप 11 में ईरान और अमेरिका भी
सबसे ज्यादा विश्व ऐतिहासिक स्थलों वाले देशों में सातवें नंबर पर मेक्सिको है जहां 35 स्थल हैं। आठवें नंबर पर यूनाईटेड किंगडम है जहां 32 स्थल हैं। नवें स्थान पर रूस में 29, दसवें स्थान पर यूनाईटेड स्टेट्स अमेरिका में 24 और 11वें स्थान पर ईरान है। ईरान में कुल वैश्विक स्तर के ऐतिहासिक स्थलों की संख्या 24 है।आगे पढ़ें

 

Read more: भीख मांगकर वकील बनी पहली ट्रांसजेंडर की कहानी

महिलाओं के प्रति शारीरिक-यौन हिंसा के आंकड़े भयावह

5 करोड़ साल पहले जीवित था दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *