Menu
blogid : 26149 postid : 3827

ऑस्ट्रेलिया में विलुप्तप्राय प्रजाति ने लिया जन्म, महामारी से जंगल में खत्म हो गई थी संख्या!

ऑस्‍ट्रेलिया के जीव विज्ञानियों में खुशी की लहर है। दरअसल, न्‍यू साउथ वेल्‍स के जंगलों में तस्‍मानियन डेविल प्रजाति के बच्‍चों ने कई सालों बाद जन्‍म लिया है। 1990 में विलुप्‍त श्रेणी में रखी गई इस प्रजाति को फिर से जीवन देने की दिशा में बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है। यह प्रजाति अपने खतरनाक दांतों, पंजों और काटने की क्षमता के लिए जाना जाता है। इस एनीमल से प्रेरित कार्टून वार्नर ब्रदर्स की एनीमेशन सीरीज में भी देखे जा सकते हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 26 May, 2021

 

 

कई साल बाद जंगल में जन्‍मा तस्‍मानियन डेविल
सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक तस्‍मानियन डेविल की प्रजाति को फिर से जीवन देने में सफलता मिल रही है। पशु संरक्षण के लिए काम करने वाले ऑस्‍ट्रेलियाई एनजीओ ऑसी ऑर्क कई सालों से इस प्रजाति को बचाने में जुटे हैं। ऑसी आर्क ने 24 मई को इंस्‍टाग्राम पोस्‍ट के जरिए बताया कि ऑस्‍ट्रेलिया के न्‍यू साउथ वेल्‍स की बैरिंग्‍टन वाइल्‍डलाइफ सेंचुरी में तस्‍मानियन डेविल मादा ने बच्‍चों को जन्‍म दिया है। ऐसा माना जा रहा है कि 3 हजार साल में यह पहली बार है जब ऑस्‍ट्रेलिया के मेनलैंड जंगल में इस प्रजाति ने जन्‍म लिया है।

 

चूहे जैसी शक्ल पर आकार छोटे डॉग जितना
ऑसी ऑर्क ने पिछले साल 26 तस्‍मानियन डेविल जोड़ों को खुले जंगल में प्रजनन और विचरण के लिए छोड़ा था। ताकि इनकी प्रजाति को दोबारा जीवन मिल सके। अब बच्‍चों के जन्‍म के बाद तस्‍मानियन डेविल की संख्‍या बढ़ने की संभावना को पंख लग गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार तस्मानियन डेविल वाइल्‍ड डॉग की प्रजाति का जानवर है जो चेहरे से देखने में हूबहू चूहे जैसा है, लेकिन इसके शरीर का आकार छोटे डॉग जितना होता है। माना जाता है कि तस्मानियन डेविल को यह नाम उसके खूंखार जबड़े, बड़े नाखूनों वाले पंजे, हमला करने और काटने की खतरनाक क्षमता के कारण दिया गया है।

 

 

महामारी ने खत्म कर दी थी जनसंख्या
जंगलों में रहने वाले तस्‍मानियन डेविल के तेजी से मरने पर जीवन विज्ञानियों ने 1990 के दशक में जांच शुरू की थी। 1996 में जब तक पता लगाया गया कि यह प्रजाति चेहरे के ट्यूमर और कैंसर की वजह से मर रही है तब तक ऑस्‍ट्रेलिया के जंगलों में इनकी संख्‍या ना के बराबर बची थी। जो बचे उन्‍हें जू और पशु चिकित्‍सालयों में संरक्षित किया गया। 2008 में यूएन रेड लिस्ट में इस प्रजाति को विलुप्त श्रेणी में दर्ज किया गया था।

 

 

कार्टून कैरेक्टर के रूप में हो चुका है पॉपुलर
इस प्रजाति के संरक्षण के जीव विज्ञानी, हॉलीवुड अभिनेता भी सामने आ चुके हैं। हॉलीवुड के थॉर यानी मशहूर अभिनेता क्रिस हेम्सवर्थ ने संरक्षण के लिए सहयोग किया था। तस्मानियन डेविल को वॉर्नर बदर्स की कार्टून सीरीज लूनी टूंस और मैरी मेलोडीज में ताज के नाम से दिखाया गया है। ताज के कैरेक्टर में तस्मानियन डेविल को बच्चों ने खूब पसंद किया। वार्नर ब्रदर्स ने तस्मानियन डेविल के कार्टून कैरेक्टर के साथ कई फिल्में भी बनाईं। मार्केट में इसके खिलौने आज भी खूब बिकते हैं।

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *