Menu
blogid : 26149 postid : 3963

बालों के भार से मरने की कगार पर पहुंचे डॉग को बचाया, ढंक चुका था आंख-कान समेत पूरा शरीर

सुंदर लंबे बालों, छोटी कद-काठी और खूबसूरत आंखों की वजह से ट्वॉय डॉग कहे जाने वाले शीह जू नस्ल के डॉग को रेस्क्यू किया गया है। यह डॉग अत्यधिक बढ़े बालों की वजह से ठीक से चल-फिर भी नहीं पा रहा था। यहां तक कि उसे पहचानना भी मुश्किल था कि वह कौन सा जानवर है। डॉग का रेस्क्यू और ट्रांसफॉर्मेशन वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 12 Jul, 2021

बालों की वजह से पहचानना भी मुश्किल
अमेरिका के मिसूरी शहर में पालतू पशुओं के लिए काम करने वाली संस्था केसी पेट प्रोजेक्ट को शीह जू नस्ल का 14 जून को ऐसा डॉग मिला, जो अपने अत्यिधक बढ़े बालों की वजह से पहचान में भी नहीं आ रहा था। उसके आंख, पैर, पूंछ लगभग शरीर का हर हिस्सा लंबे बालों से ढंका हुआ था। सफाई नहीं होने से बाल गंदे और चिपककर एक मोटी परत जैसे बन गए थे।

Shih Tzu Dog Simon. Image courtesy- KC Pet Project


बालों को काटने में लगा 2 घंटे का वक्त

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार 11 साल का यह डॉग अपने बालों की वजह से ठीक से चल भी नहीं पा रहा था। संस्था के चिकित्सकों ने डॉग को बचाने के लिए करीब 2 घंटे तक उसके बालों को काटकर अलग किया। डॉग के शरीर से 3 किलोग्राम से अधिक बाल काटकर निकाले गए। बाल हटने के बाद डॉग का वजन 6 किलो बचा।

Shih Tzu Dog Simon transformation. Image courtesy- KC Pet Project


तिब्बत में पाया जाता है ट्वॉय डॉग

शिमोन नाम के इस डॉग को कई दिन तक मेडिकल निगरानी में रखा गया है। बता दें कि पालतू डॉग की यह छोटी प्रजाति शीह जू मूल रूप से तिब्बत में ज्यादा पाई जाती है। जबकि, अन्य एशियाई देशों में भी इस प्रजाति के डॉग को लोग अपने घरों में पालते हैं। खूबसूरती की वजह से इसे ट्वॉय डॉग भी कहा जाता है। 10 से 16 साल तक जिंदा रहने वाले यह डॉग 20-28 सेंटीमीटर ऊंचाई और अधिकतम 8 कलो वजन के होते हैं।…Next

 

 

 

Read more: 

फ्लाइंग कार का ख्वाब पूरा, 35 मिनट में एक से दूसरे शहर पहुंची

50 साल खुदाई के बाद मिला दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हीरा

ये है दुनिया का सबसे बड़ा परिवार, फैमिली में 181 सदस्य

रोबोट सोफिया की पेंटिंग ने नीलामी के रिकॉर्ड तोड़े

सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *