Menu
blogid : 26149 postid : 1939

भारत की ये 5 महारानियां खूबसूरती के लिए दुनिया भर में थीं मशहूर, किसी रहस्य से कम नहीं थी इनकी जिंदगी

Pratima Jaiswal

25 Sep, 2019

भारत में राजा-महाराजाओं का जमाना बेशक गुजर गया हो, लेकिन राजाओं के शाही परिवार से जुड़ी कहानियां अक्सर हमें सुनने को मिलती है। अपनी खूबसूरती और सौंदर्य से मोहित करने वाली ऐसी ही भारतीय सुंदरियों से हम आज आपको परिचित कराने जा रहे हैं। इन किस्से-कहानियों में से आज हम आपको इतिहास की ऐसी सुंदर महारानियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके बारे में आज भी बातें होती हैं-

 

हैदराबाद की राजकुमारी नीलोफर (1916-1989)

नीलोफर अनेक वजह से सर्वगुण संपन्न राजकुमारी मानी जाती थी। दुनिया की 10 सबसे सुंदर स्त्रियों में इनकी गिनती होती थी, जिसकी वजह से इनको अनेक फिल्मों के ऑफर भी आये। राजकुमारी नीलोफर ने नर्स की ट्रेनिंग प्राप्त की और हैदराबाद में बच्चों और औरतों के लिए एक अस्पताल की स्थापना की। बच्चों को अथाह प्यार करने वाली राजकुमारी कभी माँ नहीं बन पायी। 1989 में ,पेरिस में इनकी मृत्यु हो गई।

 

 

Princess Niloufer

 

राजमाता गायत्री देवी (23 मई 1919 – 29 जुलाई 2009 )

महारानी गायत्री को, 2009 में ‘वोग मैगजीन’ ने 60 के दशक की ‘दुनिया की सबसे सुन्दर महिला’ का ख़िताब दिया है। गायत्री देवी ने 1939 से 1970 तक जयपुर पर महारानी के रूप में शासन किया। यूरोप में शिक्षा प्राप्त करने वाली गायत्री देवी अपने असीम सौंदर्य की वजह से युवाओं के लिए फैशन आइकॉन बन गई। ऑटोमोबाइल्स की शौकीन गायत्री देवी ने पहली मर्सडीज बेंज W126 भारत मँगवाई।

.

 

Maharani Gayatri Devi

 

 

 

इंदिरा राजे बरोदा  (19 फरबरी 1892 -6 सितम्बर 1968)

कूच बिहार की महारानी इंदिरा राजे अपनी सुंदरता और परोपकार के लिए जानी जाती थी। ग्वालियर के सिंदिया से उनकी सगाई हुई लेकिन शाही नियमों और अपने माता पिता की आज्ञा की अवहेलना कर वह अपने प्रेमी कूच बिहार के राजकुामर जीतेन्द्र के साथ भाग गयी। महारानी इंदिरा उच्च जीवन जीने की ख्वाहिश रखती थी और प्रिंस जॉर्ज के साथ अफेयर की वजह से चर्चा में रहीं।

 

Indra-raje

 

 

सीता देवी बड़ौदा (मई 12,1917 फ़रबरी 15, 1989)

सीता देवी बड़ौदा (मई 12,1917 फ़रबरी 15, 1989) भारत के इतिहास की सबसे रंगीन महारानी पीतमपुरा के जमींदार की बेटी जिन्होंने वय्युर के जमींदार से शादी कर 3 बच्चे पैदा किए लेकिन 1943 में बड़ौदा के महाराजा प्रताप सिंह गायकवाड़ के प्रेम में पड़कर अपने पहले पति को छोड़ दिया।

 

Sita-Devi-

 

 

सीता देवी कपूरथला (1915-2002)

अपने समय की सबसे अधिक आकर्षक महिला मानी जाती थी। एक जमींदार के घर में जन्मीं सीता देवी का विवाह 13 वर्ष की आयु में कपूरथला के महाराजा के छोटे बेटे से कर दिया गया।  सीता देवी को 19 वर्ष की आयु में वोग मैगजीन द्धारा “सांसारिक देवी”की उपाधि प्रदान की गई। दुनिया में 5 सबसे सुन्दर ड्रेस पहनने वाली महिलाओं इनकी गिनती होती थी।…Next

 

Sita Devi

 

Read More :

जो 7 काम अपने देश में करते हैं शान से, वो भारी पड़ सकता है यहां

इस जगह को माना जाता है विधवाओं का शहर, जानें कैसी होती है उनकी बेरंग दुनिया

आखिर क्यों होते हैं गाडियों के नंबर प्लेट अलग-अलग रंग के, जानें इसका मतलब

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *