Menu
blogid : 26149 postid : 3276

चूहे को मिला बहादुरी का गोल्ड मेडल, 39 लैंडमाइंस नष्ट कर बचाई लोगों की जान

Rizwan Noor Khan

25 Sep, 2020

लोगों की सुरक्षा में अहम योगदान निभाने वाले जानवरों में चूहे का नाम भी दर्ज हो गया है। अभी तक कुत्ता और बिल्ली को लोगों की जान बचाने के लिए जाना जाता रहा है। लेकिन, एक चूहे को उसकी बहादुरी के लिए गोल्ड मेडल देकर सम्मानित किया गया है। चूहे को हीरो रैट के खिताब से भी नवाजा गया है।

Image courtesy : CNN

कंबोडिया में तैनात रहा है मगावा चूहा
सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक विशाल अफ्रीकी चूहे मगावा को बहादुरी के लिए गोल्ड मेडल प्रदान किया गया है। कंबोडिया में लैंडमाइंस को खोजकर नष्ट करने के लिए मगावा चूहे को इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। यह अवॉर्ड ब्रिटिश वेटेरिनरी चैरिटी संस्था पीपल्स डिस्पेंसी फॉर सिक एनीमल्स (पीडीसीए) की ओर से अतुलनीय कार्य करने वाले जानवरों को दिया जाता है।

विस्फोटक को नष्ट करने में ट्रेंड
रिपोर्ट के मुताबिक कंबोडिया में विरोधी गुटों द्वारा जमीन में बिछाई गई लैंडमाइंस से हर साल बड़ी संख्या में लोग मरते हैं और जख्मी भी होते हैं। यहां की लैंडमाइंस और विस्फोटकों को नष्ट करने के लिए कुछ साल पहले मगावा चूहे को काम पर लगाया गया था। मगावा चूहा विस्फोटकों की तलाशी और उन्हें नष्ट करने के लिए पूरी तरह ट्रेंड है।

7 साल में 39 लैंडमाइंस खोजीं
सामान्य चूहे की तुलना में मगावा चूहा काफी बड़ा और भारी है। मगावा ने 7 साल के करियर में लाखों लोगों की जान बचाने का काम किया है। रिपोर्ट के मुताबिक इतने सालों में मगावा ने 39 लैंडमाइंस को खोजा है और 28 बार विस्फोटकों की पहचान कर उन्हें फटने से पहले ही नष्ट किया है।

Image courtesy : CNN

एनीमल अवॉर्ड में सबसे प्रतिष्ठित है गोल्ड मेडल
पीडीसीए के डायरेक्टर जैन मैकलागलिन ने वर्चुएल प्रजेंटेशन में कहा कि मगावा हीरो रैट है। समाज को सुरक्षित रखने के प्रति उसे समर्पण ने साबित किया है कि वह गोल्ड मेडल का हकदार है। उन्होंने कहा कि एनीमल अवॉर्ड में यह सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड है। मगावा चूहे से पहले यह अवॉर्ड कई बहादुर डॉग और कबूतरों को उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए दिया जा चुका है।

000

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *