Menu
blogid : 26149 postid : 3795

वैक्‍सीन के लिए पहले दिन 1.55 करोड़ रजिस्‍ट्रेशन, कोविन पोर्टल पर ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन

Rizwan Noor Khan

29 Apr, 2021

18 से 45 साल तक के लोगों को वैक्‍सीन लगाने के लिए 28 अप्रैल से ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन शुरू हो चुके हैं। पहले दिन 3 घंटे के अंदर 80 लाख से ज्‍यादा लोगों ने रजिस्‍ट्रेशन करा लिया। रजिस्‍ट्रेशन कराने वालों को एक मई से वैक्‍सीन लगाई जाएगी। वैक्‍सीन लगवाने के लिए रजिस्‍ट्रेशन अनिवार्य है। आइये जानते हैं कैसे होगा रजिस्‍ट्रेशन और इसकी प्रक्रिया।

3 घंटे में 88 लाख लोगों ने कराया रजिस्‍ट्रेशन
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने एएनआई को बताया कि कल कोविन प्लैटफॉर्म को शुरू करने के 3 घंटे के अंदर 88 लाख नौजवान वैक्सीनेशन के लिए बुक कर चुके थे। 28 अप्रैल को शाम 4 बजे से वैक्‍सीन के लिए ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन शुरू हो चुका है। 29 अप्रैल की दोपहर से पहले तक 1.55 करोड़ लोगों ने रजिस्‍ट्रेशन कर लिया है।

टीकाकरण के लिए ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन
www.cowin.gov.in पर लॉग ऑन करें।
अकाउंट बनाने के लिए मोबाइल नंबर एंटर करें।
मोबाइल पर आए वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) डालें और वैरीफाई पर क्लिक करें।
इसके बाद फोटो आइडी का ऑप्‍शन चुनें (आधार कार्ड, पैन कार्ड आदि)।
फोटो आईडी नंबर भरें।
रजिस्‍टर बटन पर क्लिक करें और इसके बाद अकाउंट डिटेल दिखने लगेंगी।
एड मोर ऑप्‍शन को क्लिक परिवार के 3 अन्‍य लोगों को भी जोड़ सकते हैं।
शेड्यूल अप्‍वाइंटमेंट बटन पर क्लिक करें।
प्रदेश, जिला और पिनकोड के जरिए नजदीकी वैक्‍सीनेशन सेंटर चुनें।
उपलब्‍ध दिन और तारीख चुने और बुक के बटन पर क्लिक करें।
टीकाकरण बुकिंग पूरी होने पर एक मैसेज आएगा जो केंद्र पर दिखाना होगा।
रजिस्‍ट्रेशन प्रकिया आरोग्‍य सेतु एप पर मोबाइल से भी की जा सकती है।

वैक्‍सीन लगवाने से पहले इन बातों का रखें ध्‍यान
ऑनलाइन पंजीकरण के बाद तय दिन-तारीख पर समय से टीकाकरण केंद्र पहुंचे। केंद्र जाने से पहले फोटो आइडी प्रूफ साथ रख लें। कोई बीमारी है तो उससे संबंधित दस्‍तावेज ले जाना न भूलें। निजी टीकाकरण केंद्र पर कोवैक्‍सीन की पहली खुराक के लिए 600 रुपये भुगतान करने होंगे। जबकि, कोवीशील्‍ड की खुराक के लिए 600 रुपये देने होंगे। सरकारी केंद्र पर वैक्‍सीन निशुल्‍क लगेगी। किसी भी तरह के सवाल या जानकारी के लिए हेल्‍पलाइन नंबर 1075 पर कॉल किया जा सकता है।

 

 

Read more: विश्‍व में 2 अरब लोग दूषित पानी पीने को मजबूर

मनुष्‍य के बाद पहली बार 9 गोरिल्‍ला को लगी कोरोना वैक्‍सीन

गिद्ध पक्षी के लिए 10 साल बाद दूसरी दवा पर बैन लगा

दो जीराफ ने दुनियाभर के पशुविज्ञानियों की नींद उड़ाई

सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *