Menu
blogid : 26149 postid : 2915

हिरोशिमा में दिखा था सदी का सबसे भयानक मंजर, 60 सेकेंड में मौत की नींद सो गए थे 1.40 लाख लोग

Rizwan Noor Khan

6 Aug, 2020

 

 

 

Image courtesy : AP

 

 

दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान हिरोशिमा पर गिरे परमाणु बम लिटिल ब्वॉय ने अब तक सबसे खौफनाक मंजर पैदा किया था। इस मंजर को दुनिया आज तक नहीं भुला पाई है। आज से ठीक 75 साल पहले जापान के हिरोशिमा शहर में दुनिया का पहला परमाणु बम हमला किया गया था। इस हमले से पलक झपकते ही करीब ढेड़ लाख लोग राख का ढेर बन गए थे।

 

 

Image courtesy : Alzazira

 

 

दूसरे विश्वयुद्ध में जापान बन गया था सबसे बड़ा खतरा
दूसरे विश्वयुद्ध में अमेरिका ने जर्मनी पर काबू पा लिया था, लेकिन जापान के हमलों से उसे भारी ​नुकसान हो रहा था। जापान ने अमेरिका के बंदरगाह पर्ल हार्बर को हमले में पूरी तरह ध्वस्त कर दिया था और चीन की सेना को खदेड़ते हुए बीजिंग पर कब्जा कर लिया था। जापान की सेना लगातार जीत हासिल कर रही थी।

 

 

Image courtesy : AP

 

 

परमाणु बम ने 60 सेकेंड में इंसानों को राख बना दिया
जापान की जीत से विश्वयुद्ध खत्म नहीं हो रहा था। युद्ध के खात्मे के लिए अमेरिका ने जापान के प्रमुख शहर हिरोशिमा पर 6 अगस्त 1945 को परमाणु बम लिटिल ब्वॉय से हमला कर दिया। अलजजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक परमाणु बम गिरने के 60 सेकेंड में शहर की एक तिहाई आबादी मौत की नींद सो गई।

 

 

Image courtesy : AP

 

 

1.40 लाख लोग पलक झपकते ही मौत की नींद सो गए
अमेरिका के इस परमाणु हमले से 3.50 लाख की आबादी वाला हिरोशिमा शहर तबाह हो गया। यहां के 1.40 लाख लोग तत्काल मर गए। मरने वालों में 20 हजार जापानी सैनिक थे, जबकि बाकी आम नागरिक थे। परमाणु हमले के बाद भी बड़ी संख्या में लोगों की मौत रेडि​एशन और उससे उपजी बीमारियों के चलते हुई।

 

 

 

 

बम के रेडिएशन से वीरान हो गया हिरोशिमा
परमाणु हमले के कई साल बाद तक हिरोशिमा की जमीन पर एक अंकुर भी नहीं फूटा था। यहां बचे लोग रेडिएशन के कारण त्वचा और हृदय संबंधी गंभीर बीमारियों के शिकार हो गए थे। कई सालों बाद भी हिरोशिमा में नवजातु शिशु किसी न किसी बीमारी को साथ लेकर पैदा होते थे। दुनिया ने हिरोशिमा में अब तक सबसे भयानक मंजर देखा था।

 

 

Hiroshima Mayor Kazumi Matsui. Image courtesy : AP

 

 

मेयर ने कहा- हमने शांति के प्रतीक के तौर मिसाल पेश की
परमाणु हमले के 75 बरस होने पर हिरोशिमा शहर के मेयर ने काजुमी मात्सुई ने कहा कि उस वक्त पर लोगों में अफवाह थी कि अगले 75 सालों तक यहां कुछ भी पैदा नहीं होगा, जमीन बंजर रहेगी। लेकिन, इन 75 सालों में हमने खुद को संभाल लिया है और हिरोशिमा को शांति के प्रतीक के तौर दुनिया के सामने पेश किया है।…NEXT

 

 

 

 

Read more:

कैदियों को ड्रग्स सप्लाई करने वाली खतरनाक बिल्ली जेल से फरार

दुनिया के सबसे बहादुर चिंपैंजी ने ‘ग्रेजुएशन’ पूरा किया, अनोखी खूबी वाला इकलौता एनीमल

आधुनिक इतिहास की सबसे बड़ी पशु त्रासदी, एक साल के अंदर 300 करोड़ जानवरों की जिंदगी तबाह

इन क्यूट हरे सांपों को पकड़ना सबसे मुश्किल, बिना तकलीफ दिए डसने में माहिर

पाकिस्तान में कैद हाथी ने कोर्ट से जीत ली आजादी की लड़ाई, अब कंबोडिया के जंगलों में स्वतंत्र जिएगा

मधुमक्खियों में फैल रही महामारी, रिसर्च में खुलासा- खतरे में हैं दुनियाभर की मधुमक्खियां

दूषित भोजन दे रहा 200 से ज्यादा बीमारियां, कई तो कोरोना से भी खतरनाक

 

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *