Menu
blogid : 26149 postid : 3847

कई सौ साल बाद भड़के ज्वालामुखी की तस्वीरों ने होश उड़ाए, एक दिन में 30 से ज्यादा भूकंप के झटके

यूरोपीय देश आईसलैंड में भड़के ज्‍वालामुखी की तस्‍वीरें देखकर लोग चकित हैं। यहां की राजधानी के नजदीक पहाड़ पर इस साल के मार्च में ज्‍वालामुखी फटने की घटना दर्ज की गई थी। अबतक लगातार फट रहे ज्‍वालामुखी से निकला लावा करीब एक किलोमीटर दूर तक बहा है। दावा किया रहा है कि यह ज्‍वालामुखी 700 साल में पहली बार फटा है। ज्‍वालामुखी फटने से एकदिन में 30 से ज्‍यादा भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 28 May, 2021
Iceland Fagradalsfjall volcano eruption. Video grab from Youtube/Jon Bear via REUTERS

मार्च से लगातार भड़क रहा ज्‍वालामुखी
आईसलैंड देश अपने गर्म पानी के झरनों के लिए जाना जाता है। यहां करीब 30 ज्‍वालामुखी भी हैं, जिनमें से कुछ सक्रिय हैं। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार राजधानी रेक्‍यावीक से करीब 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित फगरादल्‍स पहाड़ (Fagradals Mountain) के रेक्‍यानीक पेनिनसुला में 20 मार्च को सबसे पहले ज्‍वालामुखी फटा था। तब से यह लगातार भड़क रहा है।

Iceland Fagradalsfjall volcano eruption. Image courtesy-AP

700 वर्ष बाद ज्‍वालामुखी फटा, बढ़ रही तीव्रता
ज्‍वालामुखी के लगातार फटने से भारी मात्रा में बेहद गर्म लावा निकल रहा है। जो करीब एक किलोमीटर दूरी तक बह रहा है। लावा की चमक के कारण इसे करीब 30 किलोमीटर की दूरी से भी देखे जाने का दावा किया जा रहा है। सीएनएन के मुताबिक यह ज्‍वालामुखी करीब 700 वर्षों से शांत था, जो मार्च 2021 में भड़क गया है। कई महीने से भड़क रहे ज्‍वालामुखी के फटने की तीव्रता बढ़ी है।

Iceland Fagradalsfjall volcano eruption. Video grab.

एक दिन में सबसे ज्‍यादा 31 बार आया भूकंप
ज्‍वालामुखी के तीव्र गति से भड़कने के कारण भूंकप के झटकों की संख्‍या भी प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। वैल्‍कैनो डिस्‍कवरी के आंकड़ों के अनुसार 16 मई को सबसे ज्‍यादा 31 बार भूंकप महसूस किया गया था। इसके बाद 27 मई को 18 बार और उससे पहले 14 मई को 14 बार भूकंप आया था। सबसे तेज भूकंप 24 मई को आया था, जिसे 5 किलोमीटर की दूरी तक महसूस किया गया था।

Iceland Fagradalsfjall volcano eruption. Image courtesy- AP

तस्वीरें देख लोग कह रह ‘प्रकृति का चमत्‍कार’
ज्‍वालामुखी फटने की जगह से आबादी दूर बसे होने के चलते किसी भी तरह के जानमाल की हानि नहीं हुई है। ज्‍वालामुखी फटने के दृश्‍य देखने और उनकी तस्‍वीरें लेने के लिए लोगों के आने पर इलाके की सुरक्षा बढ़ाई गई है। ज्‍वालामुखी की तस्‍वीरें लोगों के होश उड़ा रही हैं। तस्‍वीरों को देखकर सोशल मीडिया पर लोग इसे प्रकृति का चमत्‍कार बता रहे हैं। प्रशासन ने ज्‍वालामुखी के जहरीले धुएं और राख से बचने के लिए लोगों से अपने घरों की खिड़कियां और दरवाजे बंद करने के निर्देश दिए हैं।….Next

Iceland Fagradalsfjall volcano eruption. Image courtesy- AP

 

 

Read more: 

हीरे की नीलामी ने सभी रिकॉर्ड तोड़े, कीमत और वजन ने चौंकाया

रोबोट सोफिया की पेंटिंग ने नीलामी के रिकॉर्ड तोड़े

मनुष्‍य के बाद पहली बार 9 गोरिल्‍ला को लगी कोरोना वैक्‍सीन

विश्‍व में 2 अरब लोग दूषित पानी पीने को मजबूर

सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *