Menu
blogid : 26149 postid : 2216

फेसबुक पर तैर रहीं 4 करोड़ फेक न्यूज! मार्क जुकरबर्ग ने चेतावनी लेबल लगाया

Rizwan Noor Khan

30 Apr, 2020

सोशल मीडिया लगातार फेक न्यूज का जाल बढ़ता जा रहा है। गलत सूचना और अफवाह शेयर करने वालों के लिए फेसबुक सरल माध्यम बनकर उभरा हुआ था। फेसबुक ने लोगों को भ्रामक सूचनाओं से बचाने के लिए सख्ती अपना ली है। कोरोना महामारी के संदर्भ में भी बड़ी संख्या में भ्रामक सूचनाएं लोग पोस्ट कर रहे थे। सभी फेक पोस्ट को चेतावनी जारी की गई है।

 

 

 

 

4 करोड़ फेक पोस्ट की पहचान
सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर लगातार फेक न्यूज और इंफार्मेंशन पोस्ट करने वालों पर सख्ती दिखाते हुए फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने नया रास्ता निकाला है। आईएनएनस की रिपोर्ट के अनुसार जुकरबर्ग ने 4 करोड़ फेक पोस्ट करने वालों को वार्निंग दी है।

 

 

 

 

मिसलीडिंग पोस्ट पर वार्निंग लेबल
कोरोना महामारी से जुड़ी गलत और भ्रामक जानकारी लोग बड़े पैमाने पर फेसबुक पर शेयर और पोस्ट कर रहे हैं। अपने यूजर्स को इन गलत सूचनाओं से बचाने के लिए फेसबुक ने सख्ती दिखाई है। मार्क जुकरबर्ग के अनुसार सभी भ्रामक पोस्ट पर चेतावनी लेबल लगाया गया है।

 

 

 

 

कोरोना से जुुड़ी गलत पोस्ट ज्यादा
फेसबुक ने दुनियाभर में अपने फैक्टचेक पार्टनर्स की मदद से इन 4 करोड़ फेक पोस्ट को खोज निकाला है। फैक्टचेकर्स ने फेसबुक पर 4 हजार से ज्यादा ऐसी पोस्ट खोजी हैं जो कोरोना महामारी से जुड़ी भ्रामक सूचनाएं प्रसारित कर रही थीं। आम यूजर इन पोस्ट को सही मान उन्हें शेयर कर रहे थे।

 

 

 

यूजर को गलत आंकड़ों से बचाने का प्रयास
फेसबुक के सीईओ के अनुसार फेक सूचनाओं वाली पोस्ट पर वार्निंग लेबल लगने के बाद यूजर समझ जाएंगे कि वह पोस्ट सही नहीं है और उसे क्लिक नहीं करेंगे। इस तरह वह गलत सूचना के प्रभाव में आने से बच जाएंगे। बता दें कि बड़े स्तर पर कोरोना से जुड़ी गलत आंकड़े और इंफार्मेशन शेयर किया जा रहा था।…NEXT

 

 

Read more:

दौड़ते समय टूटा पैर फिर भी 8 घंटे रेंगकर पहुंचा रेसर, डॉक्‍टरों ने बचा ली जान

एक करोड़ किसानों को बर्बाद कर पाकिस्‍तान पहुंचे लाखों टिड्डे, जहां जाते हैं कोहराम मचाते हैं

विश्‍व के 13 फीसदी लोग क्‍यों मौत के मुहाने पर हैं और 34 करोड़ बच्‍चों की जिंदगी कैसे खतरे में है

टीपू सुल्‍तान ने ऐसा क्‍या किया जो कहलाए फॉदर ऑफ रॉकेट, जानिए कैसे अंग्रेजों के उखाड़ दिए पैर

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *