Menu
blogid : 26149 postid : 3434

कब्र से जिंदा निकलने लगे कोरोना संक्रमित मिंक एनीमल, वायरस के चलते 5 जानवरों की फार्मिंग पर रोक

Rizwan Noor Khan

1 Dec, 2020

कोरोना महामारी मनुष्य ही नहीं जानवर भी आफत में हैं। यूरोपीय देशों में कोरोना की चपेट में आने वाले पालतू एनीमल मिंक, लोमड़ी समेत 5 प्रजातियों की फार्मिंग पर रोक लगा दी गई है। वहीं, डेनमार्क में कोरोना वायरस रोकने के लिए दफनाए गए लाखों मिंक एनीमल अगले दिन कब्रों से जिंदा निकलने लगे तो स्थानीय प्रशासन और लोगों के होश उड़ गए।

Image courtesy : Al Jazeera/ The Independent/The Beet via Getty

मिंक एनीमल से कोरोना फैलने की पुष्टि
चूहे और ऊदबिलाव जैसा दिखने वाले मिंक एनीमल को यूरोपीय देश डेनमार्क, स्पेन और नीदरलैंड में फर के व्यापार के लिए बड़े पैमाने फॉर्म हाउस में पाला जाता है। इनके फर यानी खाल से निकलने वाले बालों को बड़े स्तर पर देश—विदेश में निर्यात किया जाता है। दुनिया के सबसे बड़े फर निर्यातकों में डेनमार्क की गिनती की जाती है। डेनमार्क के फार्मों में पाले गए मिंक एनीमल्स में कोरोना वायरस पाया गया था। इसकी वजह से बड़ी संख्या में फॉर्म कर्मचारी कोरोना की चपेट में आए थे।

दफनाए गए मिंक जिंदा निकले तो होश उड़े
रायटर्स की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए डेनमार्क ने नवंबर में 1.5 करोड़ से ज्यादा मिंक एनीमल को मारने के आदेश दिए थे। जिसके तहत पिछले दिनों बड़े पैमाने पर इन मिंक जानवरों को सामूहिक कब्रों में दफना दिया गया। दफनाने के अगले दिन 100 से ज्यादा मिंक को कब्रों से जिंदा निकलते और आसपास विचरण करते देखा गया तो स्थानीय लोगों और प्रशासन के होश उड़ गए। लोगों ने इन्हें जॉम्बी मिंक का नाम भी दे​ दिया।

Image courtesy : REUTERS

दोबारा कब्रों को खोदने की तैयारी
जिंदा निकले मिंक एनीमल के इधर उधर विचरण करने से कोरोना संक्रमण तेज होने के खतरे को भांपते हुए डेनमार्क सरकार ने कब्रों को खोदने का फैसला किया है। ताकि इन मिंक एनीमल्स को दोबारा सही ढंग से ठिकाने लगाया जा सके। बता दें कि स्वास्थ्य एजेंसियों ने अपनी जांच में पाया था कि मिंक में कोरोना का कोई असर नहीं है, लेकिन मिंक के संपर्क में आए लोग बुरी तरह वायरस की चपेट में पाए गए थे। अगस्त में नीदरलैंड और स्पेन 10 लाख मिंक को मार चुके हैं।

Image courtesy : REUTERS

हंगरी ने 5 जानवरों की फार्मिंग पर रोक लगाई
डेनमार्क, नीदरलैंड, स्पेन और स्वीडन समेत कई यूरोपीय देशों में मिंक एनीमल के कोरोना संक्रमित मिलने की घटनाओं के बाद हंगरी ने इस एनीमल की फार्मिंग समेत आयात—निर्यात पर रोक लगा दी है। हंगरी सरकार ने मिंक के अलावा लोमड़ी, पोलकैट, फरेरेट्स और क्वॉयपू एनीमल्स को पालने पर प्रतिबंध लगाया है। इन सभी जानवरों को फर उत्पादन के लिए बड़े पैमाने पर फार्म हाउस में पाला जाता है।…NEXT

 

Read more: सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें

भीख मांगकर वकील बनी पहली ट्रांसजेंडर की कहानी

महिलाओं के प्रति शारीरिक-यौन हिंसा के आंकड़े भयावह

5 करोड़ साल पहले जीवित था दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *