Menu
blogid : 26149 postid : 3767

मनुष्‍य के बाद पहली बार 9 गोरिल्‍ला को लगाई गई कोरोना वैक्‍सीन, वायरस के संपर्क में आए थे

दुनियाभर में कोरोना वायरस ने मनुष्‍य को ही नहीं जानवरों की जिंदगी के लिए भी आफत बना हुआ है। वायरस को खत्‍म करने के लिए तमाम देशों में वैक्‍सीन लगाई जा रही है। कोरोना से बचाने के लिए अब जानवरों को भी वैक्‍सीन लगाई जा रही है। इसी क्रम में 5 मार्च को 9 गोरिल्‍ला को वैक्‍सीन की डोज दी गई है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 5 Mar, 2021
Image courtesy : San Diego Zoo Safari Park

सैन डिएगो जू में संक्रमित मिले थे गोरिल्‍ला
अमेरिका के कैलीफोर्निया स्थित सैन डिएगो जू सफारी पार्क में 12 जनवरी को कोरोना फैलने की सूचना से हड़कंप मच गया था। जांच में 9 गोरिल्‍ला के ग्रुप में से कुछ को खांसते-छींकते पाया गया था। सभी गोरिल्‍ला का कोविड टेस्‍ट किया गया तो 3 गोरिल्‍ला संक्रमित पाए गए थे। जबकि, 5 में लक्षण पाए गए थे। इसके बाद सभी को आईसोलेशन में रखकर इलाज किया जा रहा था।

1 महीने मेडिकल निगरानी के बाद रिकवर हुए
सैन डिएगो जू की एग्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्टर लीसा पीटरसन ने फरवरी में बताया था कि कोरोना पॉजिटिव पाए गए सभी गोरिल्‍ला करीब एक महीने के इलाज के बाद अब पूरी तरह रिकवर हो चुके हैं। इस बाद अपने बाड़े में निगरानी में रहे सभी 9 गोरिल्‍ला को 5 मार्च को कोरोना वैक्‍सीन के डोज दिए गए हैं। यह पहली बार है जब मनुष्‍य के बाद जू के जानवरों को कोरोना वैक्‍सीन लगाई गई है।

9 गोरिल्‍ला को लगाई गई कोरोना वैक्‍सीन
जू ने बयान में कहा कि 4 बड़े गोरिल्‍ला और 5 बोनोबो गोरिल्‍ला को कोरोना वैक्‍सीन के 2-2 डोज दिए गए हैं। जानवरों की दवाएं बनाने के लिए मशहूर अमेरिकी कंपनी जोइटिस ने इस वैक्‍सीन को विकसित किया है। परीक्षण स्‍तर पर चल रही इस वैक्‍सीन को मंजूरी मिलने के बाद मिंक, डॉग और कैट को भी लगाया जाएगा। बता दें कोरोना के संपर्क में लाखों मिंक जानवर को पिछले साल जुलाई-अगस्‍त में मारा जा चुका है।

Image courtesy : San Diego Zoo Safari Park

दिसंबर से बंद जू फरवरी में खोला गया
कोरोना की वजह से 6 दिसंबर 2020 से पूरी तरह बंद चल रहे सैन डिएगो जू को फरवरी में ही ओपेन किया गया है। इसके अलावा सभी गोरिल्‍ला को भी विजिटर्स के लिए खोल दिया गया है। कोरोना से रिकवर हुए गोरिल्‍ला को देखने के लिए बड़ी संख्‍या में पर्यटक जू पहुंच रहे हैं। बता दें कि जू में 300 प्रजातियों के 2600 से ज्‍यादा जीव-जंतु हैं। इसके अलावा 3500 प्रजातियों की वनस्‍पति भी यहां हैं। इस जू में सालाना 20 लाख से ज्‍यादा लोग घूमने पहुंचते हैं।…NEXT

 

Read more: गिद्ध पक्षी के लिए 10 साल बाद दूसरी दवा पर बैन लगा

जू में खांसते मिले वनमानुष कोरोना पॉजिटिव निकले

दो जीराफ ने दुनियाभर के पशुविज्ञानियों की नींद उड़ाई

सबसे ज्यादा विश्व की ऐतिहासिक धरोहरें इस देश में, जानें

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *