Menu
blogid : 314 postid : 1390131

सुप्रीम कोर्ट में घूमने के लिए जा सकते हैं आम लोग, जानें कैसे मिल सकती है एंट्री

क्या आप कभी सुप्रीम कोर्ट गए हैं? अगर आपसे कोई ये सवाल पूछे तो शायद आप कहेंगे कि आप कोई वकील-जज नहीं हैं और न ही आपका कोई केस सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है, इस वजह से कभी सुप्रीम कोर्ट के चक्कर नहीं काटे। आपका जवाब सही है लेकिन अब आप इनमें से कोई वजह न होने पर भी अब सुप्रीम कोर्ट घूम सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आम लोगों के साथ-साथ विदेशी टूरिस्टों के घूमने के लिए भी अपने दरवाजे खोल दिए हैं। गुरुवार को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने इसका ऐलान किया। सुप्रीम कोर्ट की इस गाइडेड टूर योजना के तहत, अब लोग हर शनिवार को देश की सर्वोच्च कोर्ट में घूमने का मजा ले सकेंगे।

Pratima Jaiswal
Pratima Jaiswal 2 Nov, 2018

 

एजुकेशनल फिल्म के साथ इन जगहों को देखने का मौका
लोग सुप्रीम कोर्ट में जज लाइब्रेरी भी जा पाएंगे, जहां उन्हें एजुकेशन संबंधी फिल्म दिखाई जाएगी। यह योजना शनिवार से शुरू होगी, जिसके लिए एडवांस बुकिंग भी कराई जा सकती है। यह टूर सुबह 10 बजे से दोपहर 11।30 बजे तक का होगा, लेकिन जिस शनिवार को अवकाश होगा उस दिन यह टूर नहीं होगा। सुप्रीम कोर्ट ट्रिप के लिए 20-20 लोगों का ग्रुप बनाया जाएगा और उस ग्रुप में वह कोर्ट घूम पाएंगे।

 

 

फ्री एंट्री के साथ लंच सुविधा
सुप्रीम कोर्ट घूमने के लिए किसी भी तरह की फीस नहीं चुकानी होगी। यह बिल्कुल मुफ्त है। खानपान की सुविधा सुप्रीम कोर्ट परिसर में ही मुहैया कराई जाएगी। कोर्ट परिसर में टूर के दौरान कैमरा, मोबाइल, बैग, गुटका, सिगरेट-बीड़ी और खाने-पीने की चीजें ले जाने पर पाबंदी होगी। परिसर के अंदर फोटोग्राफी पर पाबंदी होगी।

 

 

ऐसे कराना होगा रजिस्ट्रेशन
इसके लिए सबसे पहले सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट https://www।sci।gov।in/ पर जाएं और Visit The Court-Guided Tour लिंक पर क्लिक करें।
इसके बाद ऊपर दिए टैब Registration पर क्लिक करें, जिसके बाद एक डिस्क्लेमर पेज खुलेगा। उस पर नीचे लिखे टैब Accept पर क्लिक करें…Next

 

Read More :

पर्यावरण ही नहीं, पटाखों का आप पर भी पड़ता है सीधा असर, इन बीमारियों का बढ़ता है खतरा

सर्दी-जुकाम के बार-बार बनते हैं शिकार! ये हैं असली वजहें

ट्रेन में करते हैं सफर तो जरूर जानें रेलवे की यात्री बीमा पॉलिसी, 10 लाख की बीमा राशि के लिए ऐसे करें क्लेम

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *