Menu
blogid : 314 postid : 1390504

पुलवामा हमले से जिंदा बचकर लौटा यह जवान, एक मोबाइल मैसेज ने बचाई जान

Pratima Jaiswal

21 Feb, 2019

कहते हैं जीवन में कुछ संयोग ऐसे हो जाते हैं, जो हमें जीवन भर के लिए याद रहते है। उस संयोग से हमारी पूरी जिंदगी जुड़ जाती है। ऐसा ही कुछ हुआ पुलवामा हमले का शिकार होने से बाल-बाल बचा एक जवान। सीआरपीएफ के जवान थाका बेलकर पुलवामा हमले की घटना में बच निकलने की कहानी एक अखबार को दिए इंटरव्यू में शेयर की।

 

 

छुट्टी के लिए किया था अप्लाई
महाराष्ट्र के अहमदनगर में जन्मे थाका बेलकर भी उसी टुकड़ी के साथ थे जो पुलवामा हमले में शहीद हो गए हैं। उनकी 24 फरवरी को शादी है इस वजह से उन्होंने छुट्टी के लिए आवेदन कर रखा था। मगर 13 फरवरी तक उनकी छुट्टी को मंजूरी नहीं मिली थी। 14 फरवरी को वह भी अपने सभी साथियों के साथ जम्मू के बेस कैंप से श्रीनगर जाने के लिए चढ़े गए थे।

 

 

एक मैसेज ने बचाई उनकी जान
तभी उन्हें मोबाइल पर एक सन्देश आया। उस सन्देश में उनकी छुट्टी मंजूर होने की बात लिखी थी। जिसके बाद वह बस से उतर कर अपने गांव के लिए निकल गए। अभी वह रास्ते में ही थे कि उन्हें इस बात की खबर मिली कि जिस बस और जिन साथियों को वह पीछे छोड़कर आए थे। उनपर पुलवामा में हमला हो गया है।

 

बेलकर के परिजनों ने बताया कि बेटे के लौटने की खुशी से 40 बेटों के शहीद होने का गम
बेलकर जबसे लौटकर आए हैं वह सदमे में हैं। उनके पिता ने कहा कि उन्हें बेटे के लौट के आने की खुशी से ज्यादा इस बात का दुख है कि भारत मां के 40 लाल शहीद हो गए। बेटे की शादी का तो अब कोई उत्साह ही नहीं बचा है। ऐसे में खुद थाका बेलकर भी साथियों के शहीद होने से बेहद दुखी है।…Next 

 

 

Read More :

‘मैं बड़े भाई की तरह गुजारिश करता हूं, यहां से चले जाइए’ पुलवामा पुलिस ऐसे रोक रही है पत्थरबाजों को

सुप्रीम कोर्ट में घूमने के लिए जा सकते हैं आम लोग, जानें कैसे मिल सकती है एंट्री

क्या है RBI एक्ट में सेक्शन 7, जानें सरकार रिजर्व बैंक को कब दे सकती है निर्देश

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *