Menu
blogid : 314 postid : 1654

पेट्रोल में लगी आग, क्या अब सरकार लेगी जान

Petrol Price in India

यूपीए 2 के तीन साल पूरे होने की खुशी में आप सभी के लिए एक बेहतरीन तोहफा. बहुत हुआ प्रकृति का दोहन इसीलिए यूपीए सरकार ने बढ़ा दिया पेट्रोल का दाम 7.50 रूपए ताकि ना रहेगा बांस ना बजेगी बांसुरी. सही है ना आखिर पेट्रोल जब इतना महंगा होगा तो लोग पेट्रोल कम इस्तेमाल करेंगे. कम इस्तेमाल करेंगे तो सीधी सी बात है पेट्रोल कम खर्च होगा. खैर यह तो हुआ व्यंग्य पर असलियत तो यह है कि यह यूपीए सरकार हाल के सालों में वाकई तुगलकी फरमान लागू करने के लिए प्रसिद्ध हो रही है.


Eight Years of UPA Government


PETROL PRICEसंप्रग-2 की तीसरी सालगिरह मनाने और कड़े फैसले लेने का ऐलान करने के अगले ही दिन केंद्र सरकार ने आम जनता को अभूतपूर्व पेट्रोल मूल्य वृद्धि का अनचाहा तोहफा दे डाला. तेल कंपनियों ने पेट्रोल की खुदरा कीमत में 7.50 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि करने का ऐलान किया है. देश के इतिहास में इस एकमुश्त सबसे बड़ी मूल्य वृद्धि में सरकार ने इसकी गुंजाइश भी रखी है कि दबाव बढ़ने पर कुछ कमी की जा सके. सरकार पिछले तीन साल में पेट्रोल कीमतें 39.51 रुपये बढ़ा चुकी है.


अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल कीमतें हाल में घटी हैं, लेकिन रुपये की कमजोरी ने नुकसान घटाने की बजाय बढ़ा दिया है. पिछले एक वर्ष [15 मई, 2011 के बाद] के दौरान पेट्रोल 9.77 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. ताजा बढ़ोत्तरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल की खुदरा कीमत 73.18 रुपये प्रति लीटर हो जाएगी.


दुनिया का सबसे मंहगा घर “एंटिलिया”

कमजोर रुपये ने बढ़ाए दाम

रुपये की कीमत में तेज गिरावट ने पेट्रोल के दाम बढ़ाने पर मजबूर कर दिया. विदेशी मुद्रा बाजार में एक डॉलर की कीमत 56 रुपये के लेवल को भी पार कर नया रेकॉर्ड बना गई और यही पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि की सबसे बड़ी वजह मानी जा रही है.


टैक्स हटे तो 36 रुपये में मिलेगा पेट्रोल

पेट्रोल पर यदि सारे टैक्स वापस ले लिए जाएं तो उपभोक्ताओं को यह मात्र 36 रुपये प्रतिलीटर के हिसाब से मुहैया कराया जा सकता है.


दरअसल, केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा हर प्रकार के टैक्स लगाए जाने के कारण 38.42 रुपये का पेट्रोल हम तक करीब 50 फीसद ज्यादा बढ़कर 73.18 [दिल्ली में] रुपये प्रतिलीटर में पहुंच रहा है. पेट्रोल के आधार मूल्य पर लगभग 14.35 रुपये एक्साइज ड्यूटी, दो फीसद कस्टम ड्यूटी, तीन प्रतिशत एजुकेशन सेस, डीलर कमीशन 1.5 रुपये और 20 फीसद वैट [दिल्ली में] जोड़कर उपभोक्ताओं तक पहुंचता है.


भारत के बाहर पेट्रोल के दाम

पाकिस्तान- 59.00 प्रतिलीटर

श्रीलंका- 61.70 प्रतिलीटर

नेपाल- 75.20 प्रतिलीटर

बांग्लादेश- 43.40 प्रतिलीटर

चीन – 72.10 प्रतिलीटर

अमेरिका- 53.70 प्रतिलीटर

जर्मनी- 113.30 प्रतिलीटर

यूके- 101.10 प्रतिलीटर

इटली- 118.60 प्रतिलीटर

दुबई- 24.40 प्रतिलीटर

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *