Menu
blogid : 314 postid : 1390818

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने अभिनंदन को 40 घंटे तक किया था टॉर्चर, राइफल से किया था सिर पर हमला

Pratima Jaiswal

16 May, 2019

बालाकोट स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी का माहौल किसी जश्न से कम नहीं था। इस दौरान अभिनंदन से जुड़ी कई खबरें आती रही। इसी कम्र में पाकिस्तान में अभिनंदन की कस्टडी से जुड़ी एक और खबर आ रही है। खबर है कि अभिनंदन पर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने पूछताछ के दौरान हमला किया था। इंडियन एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान जब पाकिस्तान की कस्टडी में थे, तो चंद घंटों में ही उन्हें इस्लामाबाद से रावलपिंडी ले जाया गया थ। वह करीब 4 घंटे ही पाकिस्तान आर्मी की कस्टडी में थे और करीब 40 घंटे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने उनसे पूछताछ की, टॉर्चर किया और भारत की खुफिया एजेंसी रॉ (रिसर्च ऐंड ऐनालिसिस विंग) को लेकर कई कॉमेंट भी किए।

 

 

आंखों पर पट्टी बांधकर अभिनंदन को कई जगह घुमाया गया
डिफेंस मिनिस्ट्री के सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान के लड़ाकू विमान एफ-16 को मार गिराने के बाद विंग कमांडर अभिनंदन का विमान जब पाकिस्तान में गिरा तो पहले अभिनंदन इस्लामाबाद में पाकिस्तान आर्मी की कस्टडी में थे। लेकिन यहां करीब वह 4 घंटे ही थे और उसके बाद उन्हें आईएसआई के लोग इस्लामाबाद से रावलपिंडी ले गए, जहां आईएसआई की इन्वेस्टिगेशन सेल ने उन्हें करीब 40 घंटे स्ट्रॉन्ग रूम में रखा। वहां उन्हें टॉर्चर किया गया और जानकारी निकालने की कोशिश की गई। इस दौरान लगातार उनकी आंखों में पट्टी बांधकर रखी गई थी और वह कुछ भी नहीं देख पा रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, अभिनंदन ने इंडियन एयर फोर्स के अधिकारियों को बताया कि उन्हें बस यह समझ आ रहा था कि उन्हें एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा रहा है और वह जगह देख नहीं पा रहे थे क्योंकि आंखों में पट्टी बांधी गई थी।

 

 

राइफल की बट से माथे पर किया गया हमला
अभिनंदन के मुताबिक, वह जितने वक्त पाकिस्तान आर्मी की कस्टडी में थे, तब उनके साथ सही तरीके से बर्ताव किया गया, लेकिन आईएसआई ने उनसे जानकारी निकलवाने के लिए उन्हें हर तरीके से टॉर्चर किया। जब अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में गिरे तब उन्हें पकड़ने के लिए राइफल की बट से उनके माथे पर मारा गया और आंख के ऊपर जो कट का निशान है, यह उस वजह से आया। लेकिन दायीं आंख के चारों तरफ जो गहरा काला निशान है और आंख में चोट है वह आईएसआई के टॉर्चर का नतीजा है।

 

भारतीय मीडिया के द्वारा मिली जानकारी
अभिनंदन के मुताबिक पूछताछ के दौरान उनसे कहा गया कि वो बेशक अपने बारे में कुछ नहीं बता रहे लेकिन भारतीय मीडिया की रिपोर्ट्स से उन्हें अभिनंदन के परिवार और घर की जानकारी मिल गई है।…Next

 

Read More :

संयुक्त राष्ट्र ने जैश आंतकी मौलाना मसूद अजहर पर बैन लगाया, तो क्या होगा उसपर असर

इन 7 लोगों को थी सर्जिकल स्ट्राइक 2 प्लान की खबर, पुलवामा अटैक के बाद शुरू कर दी थी तैयारी

पुलवामा हमले से जिंदा बचकर लौटा यह जवान, एक मोबाइल मैसेज ने बचाई जान

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *