Menu
blogid : 314 postid : 1366936

13-17 नवम्बर दिल्ली में फिर से लौटा ऑड-ईवन, जानें इस बार के नए नियम

दिल्ली में स्मॉग की वजह से एक बार फिर से ऑड-ईवन ने दस्तक दी है. स्मॉग ने पूरी दिल्ली को धुआं-धुआं कर दिया. प्रदूषण को देखते हुए पांचवी क्लास तक स्कूल बंद करने पड़े. आनन-फानन में दिल्ली सरकार ने अधिकारियों के साथ मीटिंग बुलाई. इमरजेंसी जैसे हालातों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने 13-17 नवम्बर ऑड-ईवन को एक बार फिर से लागू करने की घोषणा की है. दिल्ली में तीसरी बार यह फॉर्म्युला लागू होने जा रहा है. इससे पहले 2016 में 1-15 जनवरी और 15-30 अप्रैल के बीच 2 बार इस स्कीम को चलाया गया था.


odd even is back

ऑड-ईवन के नियम

1. यह फॉर्म्युला दिल्ली और दूसरे राज्यों के वाहनों पर भी लागू होगा.

2. ऑड-ईवन सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक लागू रहेगा.

3. गाड़ी के नंबर प्लेट के आखिरी डिजिट के ऑड (1,3,5,7,9) या ईवन (2,4,6,8,0) होने के हिसाब से यह फॉर्म्युला काम करेगा.

4. नियमों का उल्लंघन करने वालों से ट्रैफिक पुलिस और ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अधिकारी 2 हजार रुपये का जुर्माना वसूलेंगे.


odd even 1


परेशानी से बचाने के लिए की गई तैयारियां

1. डीटीसी को प्राइवेट कॉन्ट्रैक्टर्स की 500 बसों का इंतजाम करने को कहा है. DMRC भी 100 छोटी बसों को 20 सड़कों पर चलाएगी, ताकि ज्यादा लोग मेट्रो का इस्तेमाल कर सकें.

2. कैब कंपनी मनमानी न करें, इसलिए शुक्रवार को मीटिंग में ओला-उबर के अधिकारियों से बात की जाएगी, जिससे कि कैब के किराए में बढ़ोत्तरी न हो.

3. दिल्ली के स्कूलों में डीटीसी की बसें भी लगी हुई हैं. डीटीसी की 3944 बसें हैं और क्लस्टर स्कीम की 1600 बसें हैं. ऐसे में इन बसों का इस्तेमाल तभी हो सकता है, जब स्कूल बंद हो. सरकारी स्कूलों की छुट्टी पर भी फैसला लिया जाएगा.

4. ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के हेल्पलाइन नंबर से अतिरिक्त लाइनें जोड़ी जाएंगी.

5. सुबह और शाम के समय मेट्रो के ट्रिप में बढ़ोत्तरी की जाएगी…Next

Read More:

देश के चौथे सबसे महंगे घर के मालिक हैं शाहरुख, तीन बार की है गौरी से ‘शादी’

मैच खेलते-खेलते दिल दे बैठे थे आशीष नेहरा, महज 7 दिनों में कर ली शादी

अपनी मेहनत से किस्मत पलट देते हैं इन 5 राशियों के लोग, जल्दी नहीं मानते हार

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *