Menu
blogid : 314 postid : 1386344

अंशु प्रकाश से हाथापाई के दौरान केजरीवाल के घर थे 11 लोग, CM से हो सकती है पूछताछ!

दिल्ली में सियासी संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है, जहां कुछ दिनों पहले दिल्ली में सीलिंग का मुद्दे पर गरम था वहीं, अब केजरीवाल सरकार पर आरोप है कि उनकी पार्टी ने मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट की है। मामले की चांज अभी चल रही है। इसमे आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जरवाल की गिरफ्तारी के बाद बुधवार को आप विधायक अमानतुल्ला खान ने भी जामिया नगर थाने सरेंडर कर दिया। दोनों को ही कल रात जेल में गुजारनी पड़ी। ऐस में अब मामला ये सामने आ रहा है कि केजरीवाल और अंशु की मुलाकात के दौरान सीएम के साथ करीब 11 विधायक और मौजूद थे।

cover


सीसीटीवी से आई कुछ तस्वीरें

जहां आपको दो विधायक जेल में है वहीं अब 11 और विधायकों के वहां मौजूद होने का बात कह जा रही है। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को सीएम हाउस के अंदर जाते हुए सीसीटीवी की तस्वीरों को तो पूरी दुनिया देख चुकी है। इन तस्वीरों में आम आदमी पार्टी के विधायक नितिन त्यागी को मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को सीएम हाउस के अंदर पहुंचते देखा जा सकता है।



35-anshupraksh_5


11 विधायक थे सीएम हाउस के अंदर

सीएम हाउस के अंदर क्या हुआ इसकी पूरी जानकारी फिलहाल किसी को नहीं है। लेकिन जांच में जिन लोगों का नाम सामने आ रहा है वो हैं। अजय दत्त (अंबेडकर नगर), राजेश ऋषि (जनकपुरी), राजेश गुप्ता (वजीरपुर), रितुराज गोविंद (किरारी), मदन लाल (कस्तुरबा नगर), प्रवीण कुमार (जंगपुरा), दिनेश मोहनिया (संगम विहार), संजीव झा (बुरारी) और नितिन त्यागी (लक्ष्मी नगर) भी वहां मौजूद थे। वहीं, इनमें से दो ओखला से विधायक अमानतुल्लाह खान और देवली से विधायक प्रकाश जरवाल तिहाड़ जेल पहुंच गए हैं।


kejriwal


मेडिकल रिर्पोट में मिले चोट के निशान

जहां एक तरफ आप के विधायकों की गिरफ्तारी हो रही है वहीं पार्टी इन आरोपो से इंकार कर रही है। लेकिन अंशु प्रकाश की मेडिकल रिर्पोट इस ओर इशारा कर रह है कि 19 फरवरी की रात को उनपर हमला हुआ था, मेडिकल रिपोर्ट में अंशु प्रकाश के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक अंशु प्रकाश के होंठ पर कटने का निशान, गालों पर सूजन और चेहरे पर चोट के निशान है।


dc-Cover-e9fmu7h7pfbqq9apjrvo1qv7p5-20180221010133.Medi


सीएम-डिप्टी सीएम से भी हो सकती है पूछताछ

इस मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया से भी पुलिस पूछताछ कर सकती है। पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि मामले में दर्ज धारा-120 बी और 34 आईपीसी का मतलब आपराधिक साजिश और समान नीयत है। ऐसे में कानून कहता है कि घटना के वक्त घटनास्थल पर जो भी शख्स मौजूद होंगे, उन सभी से जरूरत पड़ने पर पुलिस पूछताछ कर सकती है, फिर चाहे मुख्यमंत्री ही क्यों ना मौजूद हों।


arvind-kejriwal-759


आप को दो विधायक जेल में

दिल्ली के ओखला से आप विधायक अमानतुल्ला को हिरासत में लिए जाने के बाद उन्हें तीसहजारी कोर्ट में पेश किया गया और उन्हें दो दिन की पुलिस हिरासत में भेजने की मांग की। हालांकि कोर्ट ने इससे इनकार कर दिया, कोर्ट के इस आदेश के बाद इस मामले में आरोपी बनाए गए दोनों आप विधायकों ने जमानत अर्जी दायर की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने दोनों विधायकों को एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।…Next


Read More:

एक नहीं बल्कि तीन बार बिक चुका है ताजमहल, कुतुबमीनार से भी ज्यादा है लंबाई!

सीरिया-इराक से खत्म हो रही IS की सत्ता, तो क्या अब दुनिया भर को बनाएंगे निशाना!

अक्षय ने शहीदों के परिवार को दिया खास तोहफा, साथ में भेजी दिल छू लेने वाली चिट्ठी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *