Menu
blogid : 4435 postid : 46

शट अप, कुत्ता बोलते हो

sach mano to
sach mano to
  • 119 Posts
  • 1950 Comments

कुत्तों ने अचानक आम सभा बुला ली। टोमी, बंपर, टेनी सबके सब गलियों में आराम फरमा रहे थे कि फरमान आ गया। सरदार ने आम सभा बुलायी है जल्दी चलो। सबके सब काम छोड़कर चल पड़े शहीद गोबर चपौत चौक की ओर। कुत्तों का सरदार मि.शेरू गुर्रा रहा था। कुछ कुत्ते लेट से पहुंंचे थे। यह आम सभा के प्रोटोकोल के खिलाफअनुशासनहीनता माना जा रहा था। कुत्तों के प्रवक्ता मि. रेंचो आग बबूला हो रहे थे। शट अप यार, ये भी कोई तरीका है लेट से आम सभा में पहुंचने का बिल्कुल आदमी हो गये हो तुम लोग। कभी वक्त पर कोई काम कर ही नहीं सकते। देखते नहीं सरदार कब से आकर इंतजार कर रहे हैं और तुम लोग एकदम लापरवाह टाइप होते जा रहे हो। सबके सब कुत्ते सकपकाये चुपचाप बैठ गये। सरदार शेरू कूड़ेदान को मंच बनाये बैठे थे। सभा में सबके सब मौन। अचानक भीड़ से एक आवाज आयी। सरदार में पुराना वफादार हूं, कुछ कहना, अर्ज करना चाहता हूं अगर इजाजत हो तो। इजाजत है मि.शेरू ने मुंडी डुलाया और धीरे से गुर्राया बताओ क्या कहना चाहते हो मि.कालू। सरदार मैंने आपका नमक खाया है लेकिन ये आदमी लोग आजकल कुछ च्यादा ही भाव खाने लगा हैं। ये लोग खुद को समझते क्या हैं सरदार। बार-बार हमें कुत्ता कह रहे हैं। हमारे वर्षों की वफादारी का यही सिला दे रहे हैं। वो तो अच्छा हुआ धमेंद्र बूढ़ा हो गया नहीं तो बात-बात पर हमें गाली देता था। कुत्ते मैं तेरा खून पी जाऊंगा। कुत्ते मेरी बहन को छोड़ दो। लेकिन सरदार जब से यह यमला-पगला-दीवाना रिलीज हुई है हमें फिर से लोग गालियां देने लगे हैं। कुत्ते तेरी ये मजाल। निकल जा मेरे घर से कुत्ता कहीं का। सरदार बहुत नाइंसाफी है ये।
आफ्टर आल सरदार हम भी सभ्य, सुसंस्कृत हो रहे हैं लेकिन ये आदमी बार-बार हमें गाली देकर नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। कुछ कीजिये सरदार। दूसरा कुत्ता गुर्राया सरदार सुना है पिछले दिनों जब क्लिंटन भारत आये थे तो कुत्तों की फौज लेकर आये थे। कहा-मनमोहन सुना है ऐश्वर्या के पास एक महिला कुत्ता है उससे मिलवाऊंगा अपने डागी को और तो और सरदार सुना है कुत्तों का हनीमून टीवी पर लाइव दिखाया गया था हुजूर। कितने देशी-विदेशी चैनल वाले पहुंच गये थे हनीमून का लाइव दिखाने लेकिन हम भी मानने वाले नहीं हैं सरदार। चौथा कालू-अंगड़ाई ले चुका था, कहा- हम केंद्र सरकार नहीं हैं कि झुक जायेंगे। इस बार अमेरिका को शक्ति का एहसास कराके दम लेंगे। हम भारतीय गलियों में घूमने वाले चिटपंजू कुत्ते नहीं हैं। हम भी सभ्य परिवार में रहने वाले देशभक्त हैं। हमारी भी कोई इज्जत है। हम ऐसे थोड़े खुलेआम किसी को हनीमून मनाने की इजाजत दे देेंगे। सरदार कुछ करो वरना ये आदमी हमें कुत्ते ही समझते रहेंगे। पांचवां जैक बोला- सरदार जब से प्रियंका चौपड़ा ने अमिर खान के साथ धूम-3 में काम करने से इनकार किया है वो भी हमें भाव नहीं दे रही। प्रियंका का नाम सुनते ही छोटू जानी मचल उठा, बोला सरदार आप भी प्रेस से मिलिये ना। प्रेस कांफेंस कीजिये ना सरदार। कुत्तों को यह आइडिया वोडाफोन लगा तुरंत बीएसएनएल से चैनल वालों के दफ्तर को मिलाया जाने लगा एकदम रिलांयस स्टाइल में। एयरटेल की तरह सबके सब एमटीएस हो गये। बिंदास एसएमएस, मेल किया जाने लगा। इससे पहले कि कुत्ते कुछ समझ पाते चारों तरफ से कैमरा फ्लैश होने लगा। कुत्तों के प्रवक्ता मि.रेंचो गरमा गये। अबे नालायकों चैनल वालों को बुला लिया, अखबार वालों को क्यों नहीं बुलाया। तपाक से एक ने कहा- रेंचो सर, डान्ट फिकर वो अखबार वाले पूछकर भी खबर बना लेंगे। प्रेस कांफ्रेंस शुरू हो चुका था। अबे जाकर कह दे दुनिया वालों को वो क्या है सीएम व पीएम को। हम किसी के भभकी से डरने वाले नहीं। हम हुस्नी मुबारक नहीं हैं कि इस्तीफा देते ही बीमार पड़ जायेंगे। ना ही हमारी टीम भारत की तरह कमजोर है कि हम भ्रष्टाचार पर पर्दा डालते फिरेंगे। अबे भ्रष्टाचारी आदमियों। रिश्वतखोर, घोटालेबाजों, हमारा कलेजा नहीं देखा है। हमें आदमी समझ रखा है क्या। तुम्हारा मुखिया कमजोर होकर गठबंधन धर्म निभा सकता है। हम नहीं। तुम्हारे देश की छवि खराब हो रही है। कामनवेल्थ का पैसा गटक लिया। ओ घोटालेबाजों टू जी घोटाला तेरे नाम पर, आदर्श घोटाला, एसबैंड घोटाला तेरी जेब में और कुत्ता हमें कह रहे हो। शर्म नहीं आती। काला-धन तुम्हारे पास। सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई नौ साल बाद भी औद्योगिक अनुसंधान परिषद के अधिकारियों को कुछ नहीं कर सकी। समाजवादी नेता तुम्हारे वो क्या नाम है अमर सिंह पायजामा उतार रहे हैं और गालियां हमें दे रहे हो। तभी एक पतला-दुबला कुत्ता मंच पर कूद जाता है। सरदार यह देखो मेरे शरीर को। कैसे इन आदमियों ने मेरे साथ बदसलूकी की है। गये थे एक विधायक की बेटी की शादी का पत्तल चाटने और विधायक के गुर्गो ने मेरी ये हालत कर दी। सलाखों से दाग दिया। कहा अब अगर इस गली में नजर आये तो टांगे तोड़ दूंगा। सरदार आग बबूला हो उठा अब बस, बहुत सह लिये जुल्म। खबरदार। आदमियों से कह दो बहुत सितम सह लिया अब और जुल्म नहंी सहेंगे। आज के बाद हम एक-एक जुल्म का चुन-चुन कर बदला लेंगे। यकी हो गया है हमें, ये आदमी सुधरने वाले नहीं। हम सड़क पर उतर कर उन्हें सिखायेंगे कि ए आतंकवाद को पालने वाले, महंगाई को गले लगाने वाले समलैंगिक,गे आदमियों, बलात्कार तुम्हारे समाज में, हत्या, लूट तुम्हारे राज में। चोरी, डकैती सब तुम्हारे समाज में और कुत्ता हमें कहते हो। अरे हम आदमियों की तरह बहू-बेटियों की इज्जत नहीं लूटते, उसे बचाते हैं। नजर घुमा के देख रोम में। मेरे एक साथी ने अपने मालिक को एक लड़की की आबरू लूटने से रोकर उसे हवालात पहुंचा दिया। तभी एक कुत्ता सरदार मि.शेरू के कान में फुसफुसाता है। सरदार मुस्कुराता है। आंखों को गोल-गोल नचाता है। चैनल वालों को कहता है बहुत शुक्रिया आप लोगों का। आप अपने व्यस्त समय से कुछ हमलोगों के लिये निकाला। आइये हम मिल बैठकर नाश्ता करते हैं। चैनलवालों के होश गुम। घबराइये मत हम लीबिया के नेता कर्नल गद्दाफी नहीं कि चैनल वालों को कुत्ता कहेंगे। उन्होंने तो कह दिया कि इन चैनल वालों पर भरोसा मत करो-ये कुत्ते हैं, लेकिन हमें आप लोगों पर पूरा भरोसा है। आइये कुछ पत्तल चाट लीजिये। हमें पता है आप लोग बिना खाये-पिये कुछ लिखते-पढ़ते हैं नहीं।
हां तो मि.पोपट, क्या खबर है शहीद गोबरचपौत चौक से। हालात कैसे हैं? देखिये मि.गंगानी, कुत्तों ने, माफ कीजियेगा आदमी विरोधियों ने हर तरफ जाम लगा दिया है। चौक-चौराहों पर हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। आगजनी हो रही है। इसी बीच हमारे बीच मौजूद हैं कुत्तों के प्रवक्ता मि.रेंचो। हां तो मि.रेंचो क्या कहना चाहेंगे आप। देखिये मि.गंगानी, तिनका कबहुं न निंदिए, जो पांयन तर होय, कबहुं उड़ आंखिन परे, पीर धनेरी होय। कुत्तों को कुत्ता समझने वाले घमंडी, आलसी, पाखंडी, धर्म के नाम पर राजनीति करने वालों, सेक्स रैकेट में शामिल धर्माचार्यों,भ्रष्टाचारियों, दुराचारियों आप सबको मि.रेंचो प्रणाम करते हुये सादर अनुरोध करता है कि अब आप सभी सुधर जायें। नहीं तो हम मिस्त्र की क्रांति बन जायेंगे। इससे आप जैसे देशभक्तों का नग्न चेहरा बेनकाब…लगता है हमारा संपर्क मि. रेंचो से नहीं हो पा रहा है। हम जल्द वापस लौटते हैं। ले चलेंगे आपको शहीद गोबरचपौत चौक। आप कहीं जाइयेगा मत बने रहियेगा हमारे साथ सिर्फ इसी चैनल पर कुत्तों का पूरा सच जानेंगे, उनके दिल्ली में बैठे राष्ट्रीय अध्यक्ष मि. हीरा से मिलायेंगे जो अभी-अभी कुत्तों की आम सभा को वीडियो कांफ्रेसिंग से संबोधित करने वाले हैं। हंगामे पर भी रहेगी हमारी पूरी नजर। दिखायेंगे लाइव मगर तब तक एक ब्रेक, आइये लाइफ को तब तक बना लें झिंगालाला लू।

Read Comments

    Post a comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    CAPTCHA
    Refresh