Menu
blogid : 313 postid : 2741

आकर्षक दिखने के लिए चलती बस में भी मेक-अप करती हैं महिलाएं !!

women doing make-upमहिलाओं के सजने-संवरने के शौक से तो हम सभी वाकिफ हैं. स्वयं महिलाएं भी इस बात को नकार नहीं सकतीं कि जितना समय उन्हें मेक-अप करने में लगता है उतने समय में वह अपना कोई बड़ा और महत्वपूर्ण काम आसानी से पूरा कर सकती हैं. उल्लेखनीय हैं कि जब उन्हें परिवार के साथ कहीं बाहर जाना होता है तो खुद को आकर्षक पेश करने के लिए मेक-अप और अपनी ड्रेस पर सबसे ज्यादा समय लगाती हैं. फिर चाहे उनका परिवार उनका इंतजार करता-करता थक क्यों ना जाए वह अपनी सुंदरता के साथ कोई समझौता करना पसंद नहीं करतीं.


हम यह भी जानते हैं कि अधिकांश महिलाएं अपने जीवनसाथी या फिर पार्टनर को रिझाने के लिए ही सजना-संवरना पसंद करती हैं. उनका प्रेमी या पति किसी और महिला के प्रति आकर्षित ना हो सके इसके लिए वह अपना ज्यादातर आइने के सामने ही गुजार देती हैं. लेकिन अब उनके मेक-अप करने के क्षेत्र में और अधिक विस्तार देखा जा सकता है. क्योंकि अब महिलाएं केवल घर में ड्रैसिंग टेबल के सामने ही नहीं बल्कि सार्वजनिक वाहनों में भी मेक-अप करती देखी जा सकती हैं.


ब्रिटेन में हुए एक शोध के दौरान यह देखा गया कि वहां की अधिकांश महिलाएं घर से ही तैयार होकर निकलने के बावजूद सार्वजनिक वाहनों में भी अपना मेक-अप ठीक करती हैं या फिर अगर समय की कमी के कारण वह घर पर तैयार नहीं हो पाईं तो वह वाहन में संवर लेती हैं. लेकिन चाहे कुछ भी हो जाए वह एक भी दिन बिना मेक-अप के नहीं रह सकतीं.


अध्ययन में शामिल हर दस में से सात महिलाएं ऑफिस या कहीं बाहर जाते समय सार्वजनिक वाहनों में यात्रा के दौरान मेक-अप करती हैं. क्योंकि वह नहीं चाहतीं कि खराब मेक-अप के चलते वह किसी से कमतर रह जाएं.


डेली एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार वे महिलाएं जो घर से तैयार होकर ही निकलती हैं वह भी गाड़ियों, बसों और ट्रेनों में सफर करते समय एक बार फिर मेक-अप करती हैं. उनके लिए चलती गाड़ी में आईलाइनर लगाना बेहद मुश्किल काम होता है इसीलिए वह इस पर ध्यान देने की बजाय अपनी लिपिस्टिक ठीक करना, काजल और ब्लशर लगाना पसंद करती हैं. लेकिन ऐसा भी नहीं हैं कि महिलाएं आइलाइनर लगाती नहीं हैं, वह घर से ही तैयार होती हैं, यहां तक की हर तीसरी महिला इसे लगाना पसंद करती है.


लेकिन महिलाओं की सबसे बड़ी परेशानी यह भी है कि गाड़ी के अचानक रुक जाने से उनका मेक-अप खराब भी हो जाता है.


लेकिन यह हाल केवल ब्रिटेन की महिलाओं का ही नहीं बल्कि भारतीय महिलाएं भी ऐसे ही आदतों की गिरफ्त में हैं. प्राय: उन्हें भी पर्स में कंघी, लिपिस्टिक और काजल रखने का शौक होता है ताकि जरूरत पड़ने पर अपना मेक-अप ठीक किया जा सके. इसके अलावा ऑफिस या फिर किसी पार्टी में जाते हुए निजी या फिर सार्वजनिक वाहन में मेक-अप करना भी उनका एक शौक या उनकी एक जरूरत बन गई है.


Read Hindi News


To know More About Make-Up Tips Click Here



Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *