Menu
blogid : 313 postid : 508

रिश्तों में गर्मजोशी के लिए 10 शानदार टिप्स

relationshipरिश्ता वह शब्द है जो आप और आपके साथी के संबंधों की गहराइयां बयां करता है. रिश्ते की नीव पर सांचा खड़ा करने के लिए समय के थपेड़ों को सहना पड़ता है. परन्तु इसके विपरीत रिश्तों को तोड़ने में पल भर का समय नहीं लगता. और अगर रिश्ते बिखरते हैं तो उसका दर्द ह्रदय को पीड़ा देता है.

रिश्तों का आधार ही विश्वास होता है अतः रिश्तों को कायम रखने के लिए आपको अपने ऊपर विश्वास होना चाहिए और इसके साथ-साथ आपको अपने साथी पर भी विश्वास होना चाहिए. इसके अलावा रिश्तों के बीच कुछ चीजों को नहीं आने देना चाहिए. जैसे कि

1. पैसा : पैसा सब बुराइयों की जड़ है. अगर आपके और रिश्तों के बीच पैसा आ जाता है तो रिश्तों में खटास बढ़ जाती है.

2. सेक्स और बेवफाई: यौन दृष्टि से अगर आपका रिश्ता अनाकर्षक हो या आपके रिश्तों में बेवफाई हो तो इससे संबंधों में प्यार कम होता है. अतः रिश्तों की ज्वाला को कभी कम ना होने दें.

3. अनादर: शोधकर्ताओं ने यह साबित कर दिया है कि अगर आप अपने साथी को अपमानित करते हैं या फिर उसका मज़ाक उड़ाते हैं तो आप दोनों के बीच रिश्ते खराब होने की संभावना बढ़ जाती है.

4. बच्चे: बच्चे आप दोनों के रिश्ते की सबसे मज़बूत और संवेदनशील कड़ी होते हैं. अतः आपको इसमें समानता बना के रखनी चाहिए और इसके साथ-साथ आपमें इतनी उर्जा होनी चाहिए कि आप बच्चों से जुड़े मुद्दों को आसानी से हल कर पाएं.

5. विपरीत लिंग के दोस्त: अगर आप चाहते हैं कि आपका साथी विपरीत लिंग के दोस्तों के साथ बाहर ना जाए तो आप भी इस हिदायत का पालन करें.

6. आक्रोश: कभी भी आक्रोश को रिश्तों पर हावी ना होने दें. आक्रोश निडरता की निशानी होती है जिससे संबंध बिगड़ते हैं अतः बेहतर होगा कि आप आक्रोश और क्रोध को नियन्त्रण में रखें.

7. झूठ बोलना और वादे ना निभाना: अगर ऐसा लगता है कि आप झूठ बोलने से भी ना बच पाएं तो बेहतर यह होगा कि आप सच्चाई का साथ दें. वादा कभी ना तोड़ें और पुरानी गलतियों से सीख लेकर उसे सुधारने की कोशिश करें.

8. आलस: रिश्ते को कायम रखना बहुत कठिन होता है. रिश्ते को बनाए रखने के लिए कभी आलसी ना हों क्योंकि अगर आप आलस करते हैं तो उससे समय व्यर्थ होता है और रिश्तों में समय सबसे मूल्यवान होता है.

9. मतलबी होना: अगर आप किसी दुःख से ग्रस्त हों तो उस दुःख के बारे में अपने साथी को बताएं. मतलबी ना बने और बातें ना छुपाएं.

10. असुविधाएं: बेहतर है कि अगर आप को किसी चीज़ से असुविधा होती है तो ऐसी चीज़ से परहेज़ करें. अपने आराम को प्राथमिकता में रखें.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *