Menu
blogid : 313 postid : 1292090

पिता के पास 14 खरब की संपत्ति, बच्चे हैं इतने पढ़े-लिखे

‘पढ़ोगे-लिखोगे बनोगे नवाब, खेलोगे कूदोगे बनोगे खराब’. बचपन में आपने भी ये कहावत सुनी ही होगी. जब भी हम बाहर खेलने जाते थे तो कभी न कभी हमारे बड़े बुजुर्ग हमें यही बात बोलकर पढ़ाई की तरह ध्यान देने को बोला करते थे. जाहिर है कामयाबी को पहले पढ़ाई से जोड़कर देखा जाता था. लेकिन आज के वक्त को देखकर लगता है कि शिक्षा और कामयाबी के मायने अलग है.


ambani family


कामयाब होने के लिए अगर आपने उच्च शिक्षा नहीं भी ली है तो आपकी प्रतिभा और कड़ी मेहनत आपको कामयाबी की तरफ मोड़ सकती है. लेकिन फिर भी शिक्षा के मायनों को नकारा नहीं जा सकता. तभी तो अरबपति लोग भी बेशुमार दौलत होने पर भी अपने बच्चों को पढ़ाते हैं. अब जरा, मुकेश अंबानी के बच्चों की एजुकेशन देख लीजिए, बेहद कम उम्र में अपने पिता का बिजनेस संभाल रहे अंनत और आकाश अंबानी ने हायर एजुकेशन की है.


family


ईशा अंबानी

जब ईशा सिर्फ 16 साल की थी तो उनका नाम ‘फोर्ब्स’ की लिस्ट में टॉप टेन बिलेनियर में शामिल था. ईशा की एजुकेशन की बात करें तो उन्होंने येल यूनिवर्सिटी से साइकोलॉजी में डिग्री की है. अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद ईशा ने अपनी मां नीता अंबानी के साथ उनके एनजीओ में हाथ बंटाना शुरू कर दिया है. उन्हें आर्ट, स्पोर्ट्स और बिजनेस से जुड़े हुए मुद्दे पसंद है. उन्हें कई अवार्ड भी मिल चुके हैं.


isha ambani


आकाश अंबानी

अपने पापा मुकेश अंबानी के बिजनेस में कदम से कदम मिलाकर चलने वाले आकाश अंबानी अभी हाल में रिलायंस जियो के बिजनेस को संभाल रहे हैं. उनकी एजुकेशन की बात करें, तो उन्होंने ब्राउन यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में बैचलर डिग़्री की है. इसके अलावा उन्हें फोटोग्राफी करना बहुत पसंद है. वो बिजनेस संभालने के साथ वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी भी करते हैं.


akash



अंनत अंबानी

कुछ वक्त पहले सिर्फ 18 महीनों में अपना 108 किलो वजन घटाकर सबको चौंका देने वाले अंनत घर में सबसे छोटे हैं. अभी वो ब्राउन यूनिवर्सिटी में बैचलर डिग्री कर रहे हैं. अंनत के बारे में कहा जाता है कि वो बालाजी के बहुत बड़े भक्त हैं. अपना कोई भी नया काम करने से पहले वो बालाजी के दर्शन करने जरूर जाते हैं. इसके अलावा बात करें उनकी हॉबीज की तो, उन्हें क्रिकेट मैच देखने का खूब शौक है. साथ ही दोस्तों के साथ वो जमकर पार्टीज करते हैं.


anant


मुकेश अंबानी के तीन लाडलों की एजुकेशन के बारे में पढ़कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि दौलतमंद लोग भी शिक्षा का महत्व समझते हैं. इसमें कोई दो राय नहीं है कि गहराई से सोचा जाए तो शिक्षा सिर्फ दौलत कमाने का जरिया भर नहीं है…Next


Read More :

आपके अंदर ये 9 संकेत आपको कभी भी नहीं बनने देंगे अमीर

रोजाना 50 किलो दूध देती है दुनिया की ये सबसे अमीर गाय, कीमत करोड़ों में

विश्व का अमीर खिलाड़ी, इतने पैसे थे इनके पास

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *